कृषि उड़ान योजना | Krishi Udan Yojana | ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण प्रक्रिया

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को वर्ष 2020 का केंद्रीय बजट पेश करते हुए कृषि उड़ान योजना को शुरू करने की घोषणा की है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानो को कृषि उत्पादों के परिवहन में सहायता प्रदान करेगी। कृषि उड़ान योजना में किसानो की फसलों को एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाने के लिए विशेष हवाई यात्रा की व्यवस्था की जाएगी।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को उनकी फसलों का सही मूल्य दिलाकर उनकी उन्नति के रास्ते में आने वाले पत्थरो को हटाकर उनकी उन्नति को पंख प्रदान करना है। प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना के तहत सम्पूर्ण भारत में किसान अपनी फसलों के सुगम परिवहन के फलस्वरूप इसका सही मूल्य प्राप्त कर सकेंगे। कृषि उड़ान योजना किसानों के लिए 16 सूत्रीय कार्ययोजना का एक हिस्सा है।

इसके साथ वित्त मंत्री ने वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट स्कीम 2020 को भी लांच करने की घोषणा की है। केंद्र सरकार वर्ष 2022 तक कृषि उत्पादों के आधुनिकीकरण तथा किसानो की आय को दोगुना करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। इसी क्रम में नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा इस 16 सूत्रीय योजना को अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय मार्गों पर लांच करने की योजना बनाई जा रही है।

कृषि उड़ान योजना के तहत केंद्र और राज्य सरकार द्वारा हवाई अड्डे के संचालकों से रियायत के संदर्भ में वित्तीय प्रोत्साहन चुनिंदा एयरलाइंस को दिया जायेगा। इस योजना के सफल कार्यान्वयन के पश्चात् दूध ,मछली ,मास जैसे जल्दी ख़राब होने वाले खाद्य सामग्री जल्द से जल्द बाजार में पंहुचा सकेगी। इस योजना को वर्ष 2016 में राज्यों के बीच क्षेत्रीय कनेक्टिविटी के लिए शुरू की गयी उड़ान योजना से जोड़कर देखा जा रहा है।

देश के जो भी किसान इस योजना का लाभ लेना चाहते है उन्हें इस योजना में पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। इस योजना में केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा रियायत के संदर्भ में वित्तीय प्रोत्साहन चुनिंदा एयरलाइंस को दिया जाएगी जिससे सब्सिडी आधारित हवाई सेवाएं किसानो को प्राप्त हो सकेंगी। यदि आप भी इस योजना में आवेदन करना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना का उद्देश्य

  • हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है। यहाँ की 67% आबादी सीधे कृषि से जुडी हुई है। ऐसे में किसानो को उनकी उपज का सही मूल्य उपलब्ध कराने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है।
  • इस योजना के द्वारा किसान अपनी फसलों को उचित मूल्य पर भारत में कही भी बेच सकेंगी जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी।
  • यह योजना प्रधानमंत्री ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के उद्देश्य से शुरू की गयी है।
  • अब किसान कृषि उड़ान योजना के माध्यम से जल्दी ख़राब होने वाले खाद्य सामग्री जैसे- मछली, मांस तथा दूध आदि को समय पर कृषि मंडियों में पंहुचा सकेगा।
  • इस योजना के सफल कार्यान्वयन के फलस्वरूप किसानो की आय में वृद्धि होगी जिससे उनके जीवन में खुशहाली आएगी।

केंद्र सरकार कृषि उड़ान योजना का क्रियान्वयन कैसे करेगी?

इस योजना में कम से कम आधी सीटें किसानो को रियायती दरों पर उपलब्ध कराई जाएँगी। किसानो को एक निश्चित मात्रा में व्यवहार्यता गैप फंडिंग (वीजीएफ) प्रदान की जाएगी। इस गैप फंडिंग (वीजीएफ) राशि को केंद्र तथा सम्बंधित राज्य सरकार द्वारा साझा किया जायेगा।

यह योजना किसानो के लिया बहुत ही कल्याणकारी सिद्ध होगी जिसमे किसानो को सब्सिडी आधारित हवाई सेवाएं उपलब्ध कराई जाएगी। कृषि उड्डयन मंत्रालय के सहयोग से शुरू की गई यह सब्सिडी आधारित सेवाएं सभी अंतराजीय और अंतराष्टीय मार्गो पर भी लागु की जाएगी।

कृषि उड़ान योजना | ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण प्रक्रिया

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन से सम्बंधित किसी भी प्रकार की आधिकारिक सुचना प्राप्त नही हुई है। यहाँ हम आपको इस योजना के आवेदन से सम्बंधित साधारण चरणों की जानकारी प्रदान कर रहे है।

पहला चरण: – सबसे पहले आपको बागवानी या खाद्य प्रसंस्करण विभाग आधिकारिक वेबसाइट ओर जाना होगा। इसके लिए यहाँ क्लिक करे

कृषि उड़ान योजना

दूसरा चरण: – वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Krishi Udan Yojana” लिंक पर क्लिक करना होगा।

तीसरा चरण: – इसके बाद आपको योजना के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जायेंगे। इन सभी निर्देशों को पढ़कर आप “आगे बढे” लिंक पर क्लिक कर दे।

चौथा चरण: – अब आपके सामने एक ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा। यहाँ आपको अपनी सभी आवश्यक जानकारी फॉर्म में दर्ज करके सभी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।

पांचवा चरण: – इसके बाद अंतिम चरण में आप आपने द्वारा दर्ज जानकारी की जाँच कर सबमिट पर क्लिक कर दे।

इस प्रकार आपका ऑनलाइन कृषि उड़ान योजना पंजीकरण पूरा हो जायेगा। इससे योजना के पंजीकरण से सम्बंधित जानकारी के प्राप्त होने पर हम उसे वेबसाइट में अपडेट कर देंगे, आपसे अनुरोध है की आप हमारी वेबसाइट के साथ बने रहे।

यह भी पढ़े – कुसुम योजना 2020 (सोलर पंप स्कीम) ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट WWW.INDIASCHEME.COM को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना क्या है?

यह केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शुरू की गयी एक योजना है जिसमे केंद्र सरकार किसानो को उनकी फसलों को कृषि मंडियों तक पहुंचाने के लिए परिवहन की सुविधा प्रदान करेगी।

किसानों को मुहैया कराई जाने वाली हवाई यात्रा के लिए गैप फंडिंग (वीजीएफ) कौन वहन करेगा?

हवाई यात्रा के लिए गैप फंडिंग (वीजीएफ) का वहन केंद्र तथा राज्य सरकार दवाई संयुक्त रूप से किया जायेगा।

कृषि उड़ान योजना में किसान कैसे पंजीकरण करा सकते हैं?

अभी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा इस योजना की घोषणा मात्र की गई है। इस समय कार्ययोजना के आवेदन पंजीकरण प्रक्रिया के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त नहीं हुई है।

Updated: February 5, 2020 — 10:54 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *