पीएम जनता कर्फ्यू क्या है? Coronavirus से बचाव के लिए 22 मार्च को देश भर में Janta Curfew

पीएम जनता कर्फ्यू | PM Janta Curfew | पीएम जनता कर्फ्यू क्या है? | Coronavirus से बचाव | कोरोना वायरस से बचाव के लिए पीएम जनता कर्फ्यू

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 19 मार्च 2020 को देश को सम्बोधित करते हुए रात्रि 08 बजे पीएम जनता कर्फ्यू की अपील की गयी थी। इसके तहत मान्य प्रधानमंत्री द्वारा जनता से 22 मार्च दिन रविवार को जनता से खुद को घर में रहने की अपील की गयी थी जिसे प्रधानमंत्री द्वारा “जनता कर्फ्यू” का नाम दिया गया है।

इसके तहत 22 मार्च दिन रविवार को देशवासियो से सुबह 7 बजे से लेकर रात 9 बजे तक घर में रहने की अपील की गयी है। पीएम जनता कर्फ्यू (PM Janta Curfew) के दौरान आम जनता को कोरोना वायरस से बचाव के लिए घरो में रहने के लिए कहा गया है।

पीएम जनता कर्फ्यू

इस दौरान मेडिकल, किराना की दुकाने तथा व्यावहारिक वस्तुओ की बिक्री के लिए दुकाने पूरी तरह से खुली रहेंगी। आम जनता से अपील की गयी है की वह कोरोना वायरस से बचाव के लिए बाज़ारो और मोहल्लो में न घूमे। यह लेख हमने देशवासियो तक पीएम जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) की जानकारी प्रदान करने के लिए लिखा है।

Coronavirus से बचाव के लिए देश भर में Janta Curfew

चीन के वुहान प्रान्त से फैले कोरोना वायरस से पूरी दुनिया प्रभावित है। ताज़ा जानकारी के अनुसार अभी तक पूरी दुनिया में 10,000 से अधिक व्यक्तियों की जान जा चुकी है। प्रथम तथा दिर्तीय विश्वयुद्ध के बाद टीसती बार पूरी दुनिया इस तरह से प्रभावित हुई है। अनेको देशो में लोक डाउन की स्थिति बानी हुई है।

भारत में इस समय कोरोना वायरस अपने शुरूआती चरण में है। अभी तक भारत में कोरोना वायरस के मामलो का आंकड़ा 200 के पर नहीं हुआ है। भारत इस समय कोरोना वायरस के मामलो में दूसरे चरण (Second Stage) में है। केंद्र सरकार स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलो की निगरानी का काम कर रहा है।

पीएम जनता कर्फ्यू का उद्देश्य क्या है?

बहुत से व्यक्तियों के दिमाग में यह बात आ रही होगी की आखिर 22 मार्च 2020 को लगने वाले पीएम जनता कर्फ्यू से क्या फायदे होगा और इसका उद्देश्य क्या है। आपको बता दे की हवा में कोरोना वायरस का जीवनकाल 12 घंटे का होता है। इसका अर्थ है की किसी स्थान पर कोरोना वायरस का संक्रमण 12 घंटे ही रहता है। इस समय में संक्रमण के फैलने का खतरा सबसे ज्यादा होता है।

इन सभी परिस्थितियों को देखते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा आमजन से 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आह्वान किया गया है। इसलिए जनता कर्फ्यू का समय 14 घंटे का होगा। रात्रि 9 बजे के बाद भी कम व्यक्ति ही अपने घरो से बाहर निकलेंगे जिससे संक्रमण के फैलने की सम्भावना काफी कम हो जाएगी। इस अभियान को सफल बनाने से कोरोना वायरस की शृंखला टूट जाएगी और 14 घंटो के बाद जो हमे मिलेगा वह सुरक्षित देश होगा।

कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति में पाए जाने वाले लक्षण

आपको बता दे कोविड 2019 जिसे कोरोना वायरस के नाम से भी जाना जाता है किसी व्यक्ति में पहुंचने के बाद सबसे पहले उसके फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण 7 से 15 दिनों में दिखाई देते है। यहाँ हम आपको कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के लक्षणों के बारे में जानकारी प्रदान कर रहे है।

  • संक्रमित व्यक्ति को तेज़ बुखार होता है
  • वह सुखी खांसी और सर दर्द की शिकायत करता है
  • बार-बार छींक आना
  • सीने में दर्द की शिकायत
  • बेवजह थकान महसूस होना

कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने पर क्या करे?

यदि आपको तेज़ बुखार है अथवा खांसी के साथ सर दर्द की शिकायत है तो यह कोरोना वायरस के सम्भांवित लक्षण हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में व्यक्ति को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी जाती है। आप घर से ही मोबाइल फ़ोन के माध्यम से चिकित्सक से परामर्श ले सकते हैं।

आपकी स्थिति के ज्यादा ख़राब होने की स्थिति में आप स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आप आधिकारिक ईमेल आईडी तथा टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर की सहायता से व्हाट्सप्प से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यहाँ हेल्पलाइन ईमेल आईडी की जानकारी दी गयी है।

Corona Virus से बचने और फैलने से रोकने के लिए कुछ सावधानियाँ

पुरे विश्व में तेजी से फैलती इस महामारी से बचने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में कुछ बदलाव लानी की आवश्यकता है। यहाँ हम आपको बरतने योग कुछ सावधानियों की जानकारी प्रदान कर रहे है।

  • प्रत्येक व्यक्ति को अपने हाथो को दिन में कम बार-बार कम से कम 10 सेकंड के लिए धोना चाहिए।
  • खासते और छींकते समय टिशू पेपर का इस्तेमाल करे अथवा अपनी कोहनी का इस्तेमाल करे।
  • यदि आपको संक्रमण के लक्षण दिखाई देते है तब डॉक्टर, फार्मेसी या अस्पताल जाने से बचें और फ़ोन पर चिकित्सक से परामर्श ले।
  • किसी आवश्यक कार्य हेतु बाहर जाने की स्थिति में अपने मुंह को मास्क से कवर करे।
  • ट्रेनों और बसों में कम से कम 1 मीटर की दुरी पर सफर करे और खड़े होकर सफर न करे।
  • वृद्धजनो में यह संक्रमण के सम्भावना अधिक रहती है इसलिए वृद्धजन घर से बाहर न निकले।

यह भी पढ़े – NPR Form 2020: Download National Population Register Form (PDF), Time Table & Dates, Schedule

हम उम्मीद करते हैं की आपको कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव तथा पीएम जनता कर्फ्यू से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में जनता कर्फ्यू और कोरोना वायरस के सम्बन्ध जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास पीएम जनता कर्फ्यू से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment