उन्नत भारत अभियान योजना: Unnat Bharat Abhiyan ऑनलाइन पंजीकरण व लाभ

Unnat Bharat Abhiyan Yojana: उन्नत भारत अभियान योजना 2020 की शुरुआत 11 नवंबर 2014 को गाँवो के विकास के उद्देश्य से की गयी है। केंद्र सरकार द्वारा Unnat Bharat Abhiyan की शुरुआत गाँवो में बुनियादी विकास तथा उच्च शिक्षण की व्यवस्था के लिए की गई है। इस योजना के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों और उनके समुदायों को उच्च शिक्षण की सुविधा प्रदान की जाएगी।

केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत उच्च शिक्षण के माध्यम से उन ग्रामीण क्षेत्रों में विकास किया जायेगा, जो अभी तक पिछड़े हुए ग्रामीण क्षेत्र और जो अभी तक पूर्ण रूप से विकसित नहीं हो पाए हैं। इस लेख में हम आपको उन्नत भारत अभियान योजना (Unnat Bharat Abhiyan Yojana) के ऑनलाइन आवेदन, पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।

Unnat Bharat Abhiyan

केंद्र सरकार द्वारा उन्नत भारत अभियान योजना के माध्यम से देश में गावों के नागरिकों को उज्जवल भविष्य की ओर ले जाने के लिए सरकार द्वारा उच्च शैक्षणिक संस्थाएं, स्थानीय ग्रामीण समुदायों और लोगो को अच्छी शिक्षा और कौशल विकास का मौका प्रदान किया जायेगा। इस योजना के माध्यम से कम-से-कम गावों के समूह बना कर उन गाँवों को शिक्षा संस्थानों से जोड़ा जायेगा, जिससे कि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा और विकास की क्रांति आयेगी।

उन्नत भारत अभियान योजना के तहत देश भर में गाँवों को आर्थिक और सामजिक स्तर पर सशक्त बनाया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए जो भी इच्छुक लाभार्थी इस अभियान का लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा।  यह एक ऐसी योजना है, जो एक सम्मिलित भारत के निर्माण में मदद करने के लिए शिक्षा संस्थानों के लाभ से ग्रामीण विकास की प्रक्रिया में बदलाव करने के लिए एक बेहतर रास्ता बनेगा।

उन्नत भारत अभियान योजना दूसरा संस्करण

देश के मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा 25 अप्रैल 2018 को उन्नत भारत अभियान के दूसरे संस्करण की शुरुआत की गयी थी। इस योजना के तहत देश भर के 750 उच्च शिक्षण संस्थानों के छात्रों द्वारा गांवों को गोद लिया जायेगा और इस योजना में कालेज और विश्वविद्यालय के छात्रों को भी शामिल किया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत कुल 748 संस्थाएं कार्य कर रही हैं, जिसमे से 143 संस्थाए फेज -1 में और 605 संस्थाए भाग लेगी, और 313 टेक्निकल संस्थाए, 292 नॉन टेक्निकल संस्थाए कार्यरत की जाएगी।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा संचालित सभी उच्च शिक्षा संस्थानों और उन्नत भारत अभियान योजना के अनुसार सभी पिछड़े ग्रामीण पंचायतों और  गाँवों को अपने अनुभूति में लेने तथा उनके ज्ञान और विशेषज्ञता का प्रयोग ग्राम पंचायतों में होने वाली कमी और आने वाली सभी समयस्याओं को दूर करने के लिए कहा है। मानव संसाधन मंत्रालय के अंतर्गत उन्नत भारत अभियान के पूरी देख-रेख में इस अभियान को जारी किया जा रहा है।

केंद्र की उन्नत भारत अभियान योजना का उद्देश्य

हम जानते हैं कि देश में अभी-भी बहुत से ऐसे ग्रामीण क्षेत्र हैं जो आज भी विकास और शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़े हुए हैं। यदि देश के किसी भी ग्रामीण में ऐसी समस्याएं होंगी तो वे क्षेत्र कभी-भी आर्थिक और विकास के क्षेत्र में उन्नत नहीं हो पाएंगे। सरकार ने ऐसी ही समस्या को देखते हुए भारत सरकार द्वारा इस उन्नत भारत अभियान योजना (Unnat Bharat Abhiyan Yojana) की शुरुआत की गयी है।

उन्नत भारत अभियान योजना का उद्देश्य ग्रामीण सूत्रो में रहने वाले नागरिकों को शिक्षा प्रदान करना और ग्रामीण क्षेत्रों को विकसित करना है जिससे विभिन्न प्रकार की तकनीकों का इस्तेमाल कर देश की प्रगति की चुनौतियों का समाधान किया जायेगा। इसके लिए उच्च शिक्षा के संस्थानो को शामिल किया गया है, जो आर्थिक और सामाजिक विकास में सहायता कर सके।

Benefits of Unnat Bharat Abhiyan

  • उन्नत भारत अभियान योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को दिया जायेगा।
  • गाँवो में निवास करनें वाले नागरिकों एवं उनके समुदायों को उच्च शिक्षण की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिसके माध्यम से उन गाँवों में विकास करना संभव हो जायेगा।
  • इस योजना के माध्यम से कम-से-कम गाँवो का समूह तैयार करके उन गाँवों को शिक्षा संस्थानो से जोड़ा जाएगा।
  • गांव के विकास के लिए शिक्षा संस्थानों, अनुसंधान, प्रौद्योगिकी, नवाचार और स्थानीय समुदाय  के लोग शामिल होकर इस योजना का लाभ उठा सकते है।
  • उन्नत भारत अभियान योजना के माध्यम से पूरे देश के 750 उच्च शिक्षण संस्थानों के छात्र गांवों को गोद लेने का काम करेंगे |
  • इस योजना के आधार पर संस्थानों का चयन दूसरे चरण में जबरदस्त प्रतिस्पर्धा के बाद किया गया है| इन 840 संस्थानों में 521 तकनीकी संस्थान और 319 गैर-तकनीकी संस्थान शामिल होंगे।

Unnat Bharat Abhiyan के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • इस योजना का लाभ केवल ग्रामीण क्षेत्रो के लोगो को ही प्रदान किया जायेगा।
  • डीसी को पत्र
  • संस्थागत बैंक विवरण/जनादेश प्रपत्र
  • मान्य AISHE कोड।
  • समन्वयक और सूचना संस्थान के प्रमुख।
  • मान्य ईमेल आईडी और संपर्क नंबर।
  • ग्रामीणों की संख्या और नाम को अपनाने का प्रस्ताव।

उन्नत भारत अभियान योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे?

आपके द्वारा ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों को पूरा किये जाने की स्थिति में आप दिए गए चरणों के द्वारा ऑनलाइन मोड में आवेदन कर सकते हैं।   

  • सबसे पहले आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
उन्नत भारत अभियान
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “JOIN UBA” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
उन्नत भारत अभियान
  • पंजीकरण फॉर्म खुलने से पहले आपके सामने एक Popup आ जायेगा जिसमे आपको “Proceed” के बटन पर क्लिक कर देना है। फिर आपके सामने पूरी तरह से फॉर्म प्रदर्शित हो जायेगा।
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी विवरण जैसे- नाम ,पता ,मोबाइल नंबर आदि को दर्ज करके “Submit” बटन पर क्लिक कर देना है।
  • सभी संस्थानो को इस फॉर्म के भरने पर Login ID और पासवर्ड दिया जायेगा, जिससे आप योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर  जाकर PI लॉगिन या SEG लॉगिन कर सकते है।
  • फिर आप वेबसाइट पर जाकर भी योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

यह भी पढ़े – झटपट बिजली कनेक्शन योजना, नया बिजली कनेक्शन स्कीम

हम उम्मीद करते हैं की आपको उन्नत भारत अभियान योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment