UP Migrant Workers Registration: उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी पंजीकरण

उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना, प्रवासी मजदूर घर वापसी टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number), UP Migrant Workers Return Scheme Online Registration, UP Migrant Workers Return Registration प्रक्रिया की जानकारी आपको इस लेख में प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दूसरे राज्यों में फंसे हुए प्रवसि मजदूरों को प्रदेश में वापस लाने के लिए प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना की शुरुआत की है।

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा लॉक-डाउन की घोषणा की गयी है। ऐसे में दूसरे राज्यों में रोज़ी-रोटी कमा रहे मजदूर, तीर्थयात्री और छात्र लॉक-डाउन के कारण पिछले डेढ़ महीने से अपने घर वापसी की रह देख रहे हैं। इस समस्या के समाधान के लिए वह सभी मजदूर जो अपने घर लौटना चाहते हैं वह प्रवासी मजदूर की घर वापसी योजना के तहत पंजीकरण करा सकते है।

UP Migrant Workers Registration

देश में दिन-प्रतिदिन कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में दूसरे राज्यों में फंसे हुए प्रवसि मजदूर, तीर्थयात्रियों और छात्रों को बाहर निकालने के लिए प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा दूसरे राज्यों से संपर्क किया जा रहा है। अब देश में लॉक-डाउन की अवधि को दी हफ्तों के लिए 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

प्रवासी श्रमिक स्पेशल ट्रेन सूची, समय सारणी: Shramik Special Train Ticket Booking जिलेवार रूट लिस्ट

इस लॉक डाउन की वजह से हजारों मजदूर  अलग अलग राज्य में फंसे हुए हैं और वह अपने अपने घर जाना चाहते है लेकिन नहीं आ पा रहे है। ऐसे में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना (UP Migrant Workers Return Registration) के द्वारा मजदूरों की घर वापसी का रास्ता नुकाला गया है।

आप प्रवासी मजदूर घर वापसी टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर के द्वारा इस सम्बन्ध में सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। वह सभी मजदूर जो दूसरे राज्यों में फंसे हुए है और घर वापसी की राह देख रहे है, वह ऑनलाइन पंजीकरण करा सकते हैं। यहाँ इस लेख में हम आपको इसके लिए चरण-दर-चरण मग्दर्शिका प्रदान करेंगे।

यूपी प्रवासी मजदूर घर वापसी पंजीकरण प्रमुख तथ्य

योजना का नामप्रवासी मजदूर घर वापसी योजना
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
लाभार्थीदूसरे राज्यों में फंसे मजदूर
पंजीकरण की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यदूसरे राज्यों में फंसे लोगों को यूपी में वापस लाना
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटuplabour.gov.in/

उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना का उद्देश्य

आप सभी जानते हैं की इस समय पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ाई लड़ रही है। इसको लेकर भारत में भी संक्रमण से बचाव के लिए लॉक-डाउन का पालन किया जा रहा है। भारत में तीसरी बार लॉक-डाउन की अवधि को बढ़ा दिया गया है। ऐसे में दूसरे राज्यों में फंसे हुए मजदूरो की प्रदेश में वापसी के लिए आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं।

इसी क्रम में उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना की शुरुआत की गयी है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लॉक-डाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे हुए नागरिको को खाने-पीने की समस्याओ का सामना करना पड़ रहा हैं। वह सभी प्रवासी जो लॉक-डाउन में दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं, इस योजना के अपने गृह नगर में वापस लौटने के लिए पंजीकरण करा सकते हैं।

Benefits of UP Migrant Workers Return Scheme

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत से दूसरे राज्यों में फंसे हुए मजदुरो की घर वापसी का रास्ता साफ होगा।
  • प्रवासी श्रमिक रिटर्न पंजीकरण फॉर्म को यूपी राज्य सरकार ने अपने स्वयं के वेब पोर्टल यानी www.uplabour.gov.in पर जारी किया है।
  • इसके लिए गृह विभाग के आदेश के बाद श्रमिक स्पेशल ट्रेन चालने की भी बात की जा रही है जिसके द्वारा प्रवसियो को प्रदेश में वापसी की जा सकेगी।
  • इस पंजीकरण में सरकार द्वारा प्रवसि मजदूरों के दूसरे राज्यों में उनके निवास की जानकारी प्राप्त की जाएगी।
  • इसके साथ ही मुख्यमंत्री द्वारा प्रवासी मजदूर घर वापसी हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये हैं जिनके द्वारा आप अपडेट ले सकते हैं।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • आवासीय प्रमाण
  • दूसरे राज्य में रहने का पता
  • पासपोर्ट साइज फोटो

केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी प्रवासी मजदूरो को मुख्यमंत्य्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शुरू की गयी इस योजना का लाभ दिया जायेगा।

उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी पंजीकरण प्रक्रिया

वह सभी मजदूर और तीर्थयात्री जो लॉक-डाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं और प्रदेश सरकार की प्रवासी मजदूर घर वापसी पहल के तहत पंजीकरण कराना चाहते हैं, उन्हें ऑनलाइन मोड में पंजीकरण के लिए दिए गए चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना
प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना
  • इस पेज पर आपको मोबाइल नंबर , ई मेल आईडी दर्ज करके चित्र में दिए गए कैप्चा कोड को भरकर “ओटीपी भेजे” बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके द्वारा दर्ज मोबाइल फ़ोन पर एक ओटीपी आएगा जिसे आपको दिए गए स्थान में दर्ज करके अपने आप को वेबसाइट में पंजीकृत कर लेना है।
  • इसके बाद आपके सामने अगले पेज पर पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा । आपको इस पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम  पता आदि भरना होगा ।
  • अपने द्वारा दर्ज सभी जानकारियों की जांच के पश्चात् आपको “सुरक्षित करे” बटन पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आपका प्रवासी अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश में आने हेतु पंजीकरण पूरा हो जायेगा।

उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने हेतु पंजीकरण प्रकिया

वह सभी मजदूर और तीर्थयात्री जो लॉक-डाउन के कारण उत्तर प्रदेश में फंसे हुए हैं वह भी जनसुवाई की वेबसाइट में पंजीकरण कराकर अपने राज्य में जाने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “प्रवासी मजदूर: उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने हेतु” विकल्प पर क्लिक कर दे।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर , ई मेल आईडी दर्ज करके चित्र में दिए गए कैप्चा कोड को भरकर “ओटीपी भेजे” बटन पर क्लिक कर देना है।
प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना
  • अब आपके द्वारा दर्ज मोबाइल फ़ोन पर एक ओटीपी आएगा जिसे आपको दिए गए स्थान में दर्ज करके अपने आप को वेबसाइट में पंजीकृत कर लेना है।
  • इसके बाद आपके सामने अगले पेज पर पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा । आपको इस पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम  पता आदि भरना होगा ।
  • अपने द्वारा दर्ज सभी जानकारियों की जांच के पश्चात् आपको “सुरक्षित करे” बटन पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आपका प्रवासी उत्तर प्रदेश से अन्य राज्यों में जाने हेतु पंजीकरण पूरा हो जायेगा।

UP Migrant Workers Return Helpline Number (State Wise)

प्रवासी मजदूरों की स्थिति अनुसारहेल्पलाइन नंबर
महाराष्ट्र  से यूपी आने के लिए7007304242 or 9454400177
तेलंगाना और आंध्र प्रदेश से यूपी आने के लिए98866400721 or 9454402544 or 9454400135
गोवा  और कर्नाटक से यूपी वापस आने के लिए941590444 or 9454400135
पंजाब और चंडीगढ़ से यूपी आने के लिए9455351111 or 9454400190
पश्चिम बंगाल और अंदमान निकोबार से यूपी आने के लिए9639981600 or 9454400537
राजस्थान से आने के लिए9454410235 or 9454405388
हरियाणा से यूपी आने के लिए9454418828 or 9454418828
बिहार /झारखण्ड से आने के लिए9621650067 or 9454400122
गुजरात /दमन /दिवा / दादरा एवं हवेली से आने के लिए8881954573 or 9454400191 
उत्तराखण्ड /हिमाचल प्रदेश से यूपी आने के लिए800594092 or 9454400155
मध्य प्रदेश /छत्तीसगढ़ से आने के लिए9454410331 or 9454400157
दिल्ली /जम्मू कश्मीर / लदाख से आने के लिए8920827174 or 789854579 or 9454400114 or 7839855711 or 7839854569
उड़ीसा से उत्तर प्रदेश आने के लिए9454400133
तमिलनाडु /पॉन्डिचेरी से आने के लिए9415114075 or 9454400162
अरुणाचल प्रदेश / असम / नागालैंड / मेघालय / मणिपुर /त्रिपुरा / मिजोरम से आने के लिए9454441070  or 9454400148
केरल /लक्षदीप से यूपी आने के लिए6386725275 or 9936619394 or 9412194347 or 9454400162

यह भी पढ़े – प्रवासी श्रमिकों के लिए आरोग्य सेतु ऐप द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव, पूरी जानकारी

हम उम्मीद करते हैं की आपको प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

2 thoughts on “UP Migrant Workers Registration: उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर घर वापसी पंजीकरण”

Leave a Comment