यूपी मिशन रोजगार 2022: ऑनलाइन आवेदन, Mission Rojgar Yojana रजिस्ट्रेशन

UP Mission Rojgar Yojana |  यूपी मिशन रोजगार योजना आवेदन |उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार अभियान एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड | UP Mission Rojgar Yojana In Hind

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के द्वारा 5 दिसंबर 2020 को प्रदेश में युवाओ के रोजगार के संकट को दूर करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार की शुरुआत कर दी है। मिशन रोजगार प्रोग्राम के तहत राज्य सरकार ने 50 लाख बेरोजगार युवाओ को रोजगार के अवसर देने का लक्ष्य रखा है। उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में शुरू किये गए Mission Rojgar Abhiyan 2021 को अभी तक के देश के इतिहास का सबसे बड़े रोजगार मिशन बताया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत प्रदेश के युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। वह सभी युवा जो रोजगार की तलाश कर रहे हैं उन्हें इस मिशन के तहत कौशल प्रशिक्षण और अप्रेन्टिसशिप के माध्यम से रोजगार के बेहतर अवसर ढूंढने में मदद की जाएगी।

Table of Contents

UP Mission Rojgar Yojana 2022 क्या है?

कोरोना वायरस के संक्रमण के समय में उत्तर प्रदेश में बेरोजगार युवाओ की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है। ऐसे में युवाओ को रोजगार के अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से केंद्र सरकार के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा अनेको योजनाओ की शुरुआत की जाती रही है। इसी क्रम में 05 दिसंबर 2020 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा यूपी मिशन रोजगार की शुरुआत की गयी है। इस रोजगार मिशन के तहत राज्य सरकार युवाओ को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करके 50 लाख युवाओ को उनकी योग्यता के अनुसार रोजगार के अवसर प्रदान करने का कार्य करेगी। वह सभी युवा जिन्होंने COVID-19 महामारी के समय में एपीआई नौकरी खो दी है उन्हें यूपी मिशन रोजगार के द्वारा रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे।

यूपी आसान किस्त योजना

यूपी मिशन रोजगार के अंतर्गत 24.30 लोगों को मिला रोजगार

यूपी मिशन रोजगार की शुरुआत यूपी सरकार द्वारा की गई थी। यह पहल  सभी बेरोजगार नागरिकों को रोजगार देने के उद्देश्य से की गयी है। इस योजना के तहत अब तक राज्य के लाखों लोग रोजगार और स्वरोजगार से जुड़े है। 5 दिसंबर 2020 से 7 जनवरी 2021 तक 24.30 लाख बेरोजगार नागरिकों ने  रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्राप्त किए गए हैं। इतना ही नहीं, यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत 35.35 करोड़ मानव दिवस बनाए गए हैं और अब तक 69,691 बेरोजगार युवाओं की भर्ती की जा चुकी है। इन 69,691 भर्तीओ में से 2,259 भर्तियां आउटसोर्सिंग के माध्यम से और 36,868 भर्तियां अनुबंधों के माध्यम से की गयी है। रोजगार के अलावा लगभग 4,57,628 नागरिकों को स्वरोजगार के लिए सहायता भी प्रदान की गई है।

  • अब तक 59,728 युवाओं ने  यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत कौशल प्रशिक्षण प्राप्त किया है और  17,57,489 युवाओं को  निजी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त हुआ है। कुल मिलकर अब तक 24,30,793 नागरिकों को यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत, रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्राप्त हुए है।
  • यह पहली बार है, जब उत्तर प्रदेश राज्य में इतनी बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत, बेरोजगार नागरिकों को सरकारी विभाग में रिक्त पदों पर भी नियुक्त किया जाएगा। 5 लाख से ज्यादा खाली पदों को इस योजना के तहत भरा जाएगा।

5 दिसंबर को होगा यूपी मिशन रोजगार आरंभ

यूपी मिशन रोजगार 5 दिसंबर 2020 से उत्तर प्रदेश सरकार  द्वारा शुरू किया जायेगा। उत्तर प्रदेश सरकार का लक्ष्य इस योजना के द्वारा वर्ष के अंत तक 50 लाख युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाना है। यह योजना उत्तर प्रदेश के युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्रदान करेगी। यूपी मिशन रोजगार के तहत, राज्य के युवाओं को स्वरोजगार, कौशल परीक्षण और अप्रेंटिसशिप के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराये जायेगे। सरकार द्वारा रोजगार सृजन के लिए यूपी मिशन रोजगार के तहत भूमि आवंटन भी किया जाएगा और साथ ही  विभिन्न प्रकार के लाइसेंस और परमिट प्रदान करके रोजगार के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे।

Highlights of UP Mission Rojgar Yojana

नामUP Mission Rojgar Yojana
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
वर्ष2021
लाभार्थीराज्य के बेरोजगार युवक और व्यक्ति
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
उद्देश्यस्वरोजगार और कौशल प्रशिक्षण
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट—————–

रोजगार मेलों का आयोजन

यूपी मिशन रोजगार को सफल बनाने के लिए हर विभाग, संगठन आदि के कार्यालयों में हेल्प डेस्क की सुविधा प्रदान की जाएगी। इस सुविधा उस विभाग से संबंधित रोजगार, स्वरोजगार और कौशल परीक्षण से संबंधित जानकारी प्रदान करने में सहायक होगी। प्रत्येक विभाग में एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति होगी और योजना औद्योगिक विकास आयुक्त द्वारा नियंत्रित की जाएगी। हर महीने, एक उच्च स्तरीय समिति, मुख्य सचिव की अध्यक्षता में इस  योजना की निगरानी करेगी और प्रत्येक जिले में एक समिति होगी जो इस योजना को लागू करेगी। इस योजना के तहत रोजगार मेले भी आयोजित किए जाएंगे और पहले से रुकी हुई भर्ती को बढ़ाया जाएगा। UP Mission Rojgar के तहत कौशल विकास मिशन ऑनलाइन शिक्षण पाठ्यक्रम भी प्रदान करेगा। ताकि राज्य के युवाओं का कौशल विकास हो सके और उन्हें रोजगार मिले। राज्य सरकार ये पाठ्यक्रम  नि: शुल्क प्रदान करेगी।

यूपी मिशन रोजगार के संबंध में सरकार के जारी आदेश

उत्तर प्रदेश सरकार रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए, उत्तर प्रदेश सरकार ने  यूपी मिशन रोज़गार योजना शुरू की है। उत्तर प्रदेश सरकार ने मिशन रोजगार के संबंध में आदेश जारी किए हैं। जिसके तहत जिले के भीतर ही बेरोजगार युवाओं को नौकरी उपलब्ध कराई  जाएगी और इससे बेरोजगारी दर में भी कमी आएगी। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के 4 साल के कार्यकाल के दौरान, उन्होंने लगभग 400,000 लोगों को रोजगार प्रदान किया गया है। इस योजना के तहत 50 लाख युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य रखा गया है।

यूपी मिशन रोजगार का कार्यान्वयन

योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए राज्य के 75 जिलों के अधिकारियों को एक डेटाबेस तैयार करने का आदेश दिया गया है। यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत, सरकारी नौकरियों, स्वरोजगार और प्रशिक्षण के द्वारा  रोजगार के अवसर दिए जाएंगे।  जिला सेवायोजना, यूपी मिशन रोजगार की नोडल एजेंसी होगी। अपने-अपने जिलों में रोजगार उपलब्ध कराने की व्यवस्था सभी नोडल अधिकारियों को स्व्यं करनी होगी। सरकार ने सभी स्वरोजगार योजनाओं के बारे में जानकारी देने के लिए एक वेबसाइट बनाने का  निर्देश भी दिया है । इस वेबसाइट पर सभी स्वरोजगार योजनाओं के बारे में जानकारी और आवेदन करने की सुविधा होगी।

यूपी मिशन रोजगार के अंतर्गत युवाओं के लिए रोजगार के अवसर

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किये गए इस मिशन रोजगार का मुख्य लक्ष्ण युवाओ को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। पिछले कुछ समय में कोरोना वायरस के संक्रमण के समय में अनेको युवा अपनी नौकरी खो चुके हैं। अब UP Mission Rojgar के माध्यम से युवा सरकारी विभागों, परिषदों, निगमों में नौकरियों में नौकरी के लिए आवेदन कर सकेंगे। इसके साथ ही राज्य सरकार रोजगार सृजन के लिए निजी क्षेत्र के साथ बेहतर सहयोग करेगी।

उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार योजना 2022 की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत राज्य सरकार आने वाले सालो में 50 लाख युवाओ को रोजगार देने का लक्ष्य बनाया है। 
  • वह सभी युवा जिनकी लॉक-डाउन के समय में नौकरी चली गयी है उन युवाओ को UP Mission Rojgar Yojana के तहत लाभ प्रदान किया जायेगा। 
  • सभी आवेदन कर चुके युवाओ को सरकारी विभागों, परिषदों, निगमों में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। 
  • मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस मिशन की शुरुआत के बाद इसे नवम्बर 2020 से मार्च 2021 तक चलाया जायेगा। 
  • कोरोना वायरस के कारण मंडी के दौर में आयी राज्य की अर्थव्यवस्था को सुधारने में मिशन रोज़गार एक महत्वपूर्ण योगदान देगी। 
  • UP Mission Rojgar Yojana 2021 को केंद्र सरकार की आत्मनिर्भर भारत योजना के साथ जोड़ा जायेगा। 
  • इस कार्यक्रम के तहत विभिन्न विभागों में एक रोजगार हेल्प डेस्क भी बनाया जायेगा जिसके माध्यम से विभिन्न रोजगार कार्यक्रमों और संभावित नौकरी के बारे में युवा जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

यूपी मिशन रोजगार योजना का विस्तार

यूपी मिशन रोज़गार योजना के तहत, युवाओं को स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण और प्रशिक्षुता के माध्यम से रोजगार प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत भूमि आवंटन और लाइसेंस और अनुमोदन प्रदान किए जाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार 50 हज़ार युवाओं को मुफ्त में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का कोर्स प्रदान कर रही है। सरकार ने वैश्विक स्तर से लेकर जिला स्तर तक युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य रखा है।

कोरोना संक्रमण के समय में बेरोजगारी का आधिकारिक डेटा

अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार फरवरी 2020 तक उत्तर प्रदेश में 34 लाख पंजीकृत बेरोजगार युवा थे। देश में कोरोना वायरस से लॉक-डाउन के बाद इस संख्या में तेज़ी से इजाफा हुआ और यह 40 लाख व्यक्ति तक पहुंच गयी। इसका प्रमुख कारण यह है की जो युवा और व्यक्ति दूसरे राज्यों में काम कर रहे थे वह उत्तर प्रदेश में वापस लोट आये। इन वापस आने वाले लोगो में अधिकतर आधे कुशल, अर्ध-कुशल या अकुशल श्रमिक थे जिनके लिए अब UP Mission Rojgar की घोषणा की गयी है।

UP Mission Rojgar Yojana

इस मिशन रोजगार के तहत राज्य सरकार युवाओ को स्वरोजगार और कौशल प्रशिक्षण पर जोर देगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा बताया गया है लो इस योजना को केंद्र सरकार की निर्मल भारत योजना के साथ जोड़कर एक विस्तृत कार्य योजना के रूप में शुरू किया जा रहा है, जिसके तहत कौशल प्रशिक्षण, भूमि का आवंटन, डेटा का संग्रह और नियुक्ति की अनुमति जारी करना शामिल होगा। इस प्रोग्राम के तहत 50 लाक रोजगार के अवसर पैदा करने का लक्ष्य रखा गया है।

मिशन रोजगार के अंतर्गत विभागों के नाम

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी जी के द्वारा मिशन रोजगार अभियान 2021 को सफल बनाने के लिए विभिन्न विभागों को दिशा-निर्देश जारी किये गए हैं। कुछ प्रमुख विभागों के नाम इस प्रकार हैं।  

  • राजस्व परिषद
  • कृषि उत्पादन आयुक्त
  • समस्त अपर मुख्य सचिव
  • प्रमुख सचिव
  • सचिव
  • समस्त विभाग अध्यक्ष
  • मंडलायुक्त और जिलाधिकारी
  • अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त

इसके साथ ही इस अभियान के सफल कार्यान्वयन के लिए संगठनों, स्वयंसेवी संस्थाओं, निगमों परिषदों, वार्डो के साथ मिलकर काम किया जायेगा।

यूपी मिशन रोजगार योजना 2022 का उद्देश्य

भारत में कोरोना वायरस महामारी के कारण लॉक-डाउन की स्थिति के कारण कई युवाओं को अपनी नौकरी गंवानी पड़ी थी। अब उन युवाओं को रोजगार प्रदान करने के उद्देश्य के साथ राज्य सरकार यूपी मिशन रोजगार शुरू करने जा रही है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना है जिन्होंने अपनी नौकरी खो दी है। उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार योजना 2021 के माध्यम से सरकार का लक्ष्य राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना है ।

यूपी मिशन रोज़गार अभियान में रोजगार मेले

सभी निदेशालयों, निगमों, बोर्डों, आयोगों आदि को निर्देशित किया गया है की विभिन्न हितधारकों के बीच समन्वय बनाये रखने के लिए का नोडल अधिकाती की नियुक्ति करे। यूपी रोजगार मिशन 2021 की देखरेख और कार्यान्वयन के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कमिश्नर की नियुक्ति की गयी है। इसके साथ ही सीएस की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय जाँच समिति रोजगार अभियान की निगरानी करेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा यूपी मिशन रोजगर 2021 का शुभारंभ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा इस रोजगार मिशन का शुभारम्भ करते समय प्राथमिक विद्यालयों के 37,000 नव चयनित सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र भी सौपा गया। इससे पहले भी 16 अक्टूबर, 2020 को आयोजित एक समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा 31,277 सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र जारी किये जा चुके हैं, जबकि 69,000 शिक्षकों में से शेष 37,000 शिक्षा के नियुक्ति पत्र को सुप्रीम कोर्ट के द्वारा मंजूरी दी जा चुकी थी।

मुख्य सचिव आरके तिवारी ने इस मोके पर कहा की सरकारी विभाग, स्वयंसेवी संगठनो और कशल निकायों को कौशल प्रशिक्षण और प्रशिक्षुता के माध्यम से रोजगार और स्व-रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए साथ में लाया जायेगा। विकास प्राधिकरण भूमि के आवंटन, लाइसेंस जारी करने में अहम् भूमिका निभाएंगे। मिशन कार्यालय रोज़गार के अवसर पर सीएस कार्यालय ने राजस्व बोर्ड के अध्यक्ष, कृषि उत्पादन आयुक्त, बुनियादी ढांचा और औद्योगिक विकास आयुक्त, अतिरिक्त मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों, एचओडी, मंडल आयुक्तों और जिला मजिस्ट्रेटों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

UP Mission Rojgar Yojana के लिए पात्रता मानदंड

  • केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी युवक-युवतियां ही इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं। 
  • वह सभी युवा जो अभी तक बेरोजगार है वह मिशन रोजगार अभियान के तहत रोजगार के बेहतर अवसर की तलाश कर सकते हैं। 
  • कोरोना वायरस महामारी के समय में अपनी नौकरी गवां चुके युवा भी इस अभियान से जुड़कर लाभ ले सकते हैं।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • फोटो
  • 12वी की अंक तालिका
  • ग्रेजुएशन की अंक तालिका

Note– बताते चले की दस्तावेजों में सुधार संभव है, इस डेटा को आवेदन की प्रकिया शुरू होने के बाद बदल दिया जायेगा।

UP Mission Rojgar Yojana में वेब पोर्टल और मोबाइल ऍप

जैसे की हम सब जानते है हमारे देश में बेरोज़गारी की समस्या दिनप्रतिदिन बढ़ती जा रही है यह सब परेशानियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा नौकरी का एक डाटा बेस तैयार किया जा रहा है। यह ऑफिसियल वेबसाइट एवं मोबाइल एप ऑफ ट्रेनिंग एंड एम्प्लॉयमेंट द्वारा बनाई जा रही है। सरकार के द्वारा इस वेबसाइट एवं पोर्टल पर हर हर 15 दिन में रोजगार से संबंधित आंकड़े अपडेट किये जायेंगे। इस पोर्टल के माध्यम से प्रदेश के युवाओ को रोजगार काफी प्राप्त होगा।

यूपी मिशन रोजगार 2021 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

वह सभी इच्छुक व्यक्ति जो उत्तर प्रदेश सरकार की मिशन रोजगार 2021 के तहत रोजगार के अवसर प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको यूपी मिशन रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
यूपी मिशन रोजगार 2021 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “यूपी मिशन रोजगार ऑनलाइन आवेदन” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस  पेज पर आपको आवेदन फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी भरे।
  • जानकारी भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज जोड़े और सबमिट का बटन दबाकर आवेदन फॉर्म सबमिट करे।
  • इस प्रकार उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार के तहत आवेदन की प्रकिया पूरी हो जाएगी।

UP Mission Rojgar Yojana पोर्टल और मोबाइल ऐप

उत्तर प्रदेश राज्य में नौकरी डेटाबेस बनाने के लिए एक नए मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल की शुरुआत की गयी है। प्रशिक्षण और रोजगार निदेशालय द्वारा बनाई जा रही इस मोबाइल ऐप और आधिकारिक वेबसाइट पर हर 15 दिनों में रोजगार संबंधी डेटा अपडेट किया जाएगा। राज्य के युवाओं को इस मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल के माध्यम से बहुत लाभ होगा और वे आसानी से अपने लिए रोजगार ढूंढ सकेंगे। तो हम यह कह सकते हे की यह मोबाइल ऐप और आधिकारिक वेबसाइट बेरोजगारी को काम करने और रोजगार के अवसर बढ़ने में सहायक सिद्ध होगी।

यह भी पढ़े – UP Rojgar Mela: उत्तर प्रदेश रोजगार मेला रजिस्ट्रेशन, sewayojan.up.nic.in पंजीकरण

हम उम्मीद करते हैं की आपको यूपी मिशन रोजगार योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment