विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, स्टेटस देखे

Vishwakarma Shram Samman Yojana ऑनलाइन आवेदन, ज़रूरी दस्तावेज़ व कार्यान्वयन प्रक्रिया और विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना स्टेटस एवं दिशा निर्देश

मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने सभी परम्परागत कारीगरों के विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की शुरुआत की है। उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023 के तहत ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया की शुरुआत श्रम मंत्रालय के पोर्टल diupmsme.upsdc.gov.in पर कर दी गयी है। इस योजना के अंतर्गत पारंपरिक कारीगरों व दस्तकारों के स्किल्स को बढ़ाने के लिए 6 दिन की फ्री ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही राज्य सरकार ने द्वारा स्थानीय दस्तकारों तथा पारंपरिक कारीगरों को छोटे उद्योग स्थापित करने के लिए 10 हजार से लेकर 10 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना का कार्य किया जायेगा।

UP विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना

उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने लॉक-डाउन के समय में श्रमिक को स्वयं रोजगार के लिए प्रोत्साहित करने तथा उनके स्किल्स को बढ़ाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत ऑनलाइन मोड में पंजीकरण की शुरुआत की है। इस योजना को पूरी तरह से प्रदेश सरकार द्वारा वित्त पोषित किया जा रहा है। इस योजना के तहत शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों के बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनने वाले, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची जैसे पारंपरिक कारोबारियों तथा हस्तशिल्प की कला को प्रोत्साहित करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना में पंजीकरण सभी लाभार्थियों को उनके कौशल में वृद्धि के लिए 6 दिन की ट्रेनिंग प्रदान करने का कार्य किया जायेगा।

योजना के अंतर्गत बाटी गयी टूल किट

विश्वकर्मा दिवस के अवसर पर एक समारोह का आयोजन 17 सितंबर 2021 को इस योजना को शुरु किया गया है। आपको बता दे की यह कार्यक्रम जिला पंचायत सभागार कलेक्ट्रेट में आयोजित किया गया है। जिसके माध्यम से विश्वकर्मा श्रम सम्मान प्रशिक्षण टूलकिट एवं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत विश्वकर्मा सम्मान के लाभार्थियों को ऋण का वितरण एवं प्रमाण पत्र किये गए। राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल थे।विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लाभार्थियों को संबोधित किया गया है। शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के परंपरागत दर्जी, बढ़ाई, टोकरी, बुनकर, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची कारीगर आदि आजीविका के साधनो का विकास किया जाता है। जिसके माध्यम से उनका जीवन बेहतर बनाया जा सके।

1.43 लाख से अधिक आर्टिसंस को प्राप्त हुआ लाभ

प्रदेश के नागरिको को विश्वकर्म श्रम सम्मान योजना के माध्यम से 1.43 लाख से अधिक आर्टिसंस को लाभ प्रदान किया जायेगा। आपको बता दे की इस बात की जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार के की डिपार्टमेंट ऑफ एमएसएमई एंड एक्सपोर्ट प्रमोशन द्वारा प्रदान की गई है। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इस योजना को 26 दिसंबर 2018 को शुरु किया गया था। इस योजना के माध्यम से राज्य के आर्टिसंस को विभिन प्रकार की योजनाओ का लाभ प्रदान किया जायेगा। इस योजना के माध्यम से उनको एडवांस टूलकिट भी प्रदान की जाएगी। यह योजना का लाभ टेलर, कारपेंटर, बर्बर, गोल्ड स्मिथ आदि के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत साक्षरता कार्यक्रम

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना को उत्तर प्रदेश के प्रवाशी मज़दूरों एवं परम्परिक कामगारों के लिए शुरु की गई है। इस योजना के माध्यम से अपना खुद का व्यापर शुरु करने के लिए सरकार के द्वारा छह दिन की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत रोजगार शुरु करने के लिए स्थापित करने के लिए 10,000 रुपए लेकर 1000000 रुपए तक की आर्थिक सहयता भी प्रदान की जाएगी। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत मिर्जापुर जिले के उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र उपायुक्त वीके चौधरी द्वारा बताया गया है की इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

Overview of Vishwakarma Shram Samman Yojana

योजना का नामउत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना
आरम्भ की गईश्रम मंत्रालय के द्वारा
लाभार्थीराज्य के श्रमिक
पंजीकरण की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यश्रमिकों के कौशल में वृद्धि करना
लाभ6 दिन फ्री ट्रेनिंग की सुविधा
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.diupmsme.upsdc.gov.in/

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023 का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू की है, जिसमें सभी बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, जैसे आर्थिक रूप से कमजोर मजदूरों को उनके व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करके कारोबार आगे बढ़ाने के लिए सहयोग दिया जाएगा। इस योजना को शुरू करने का, सरकार का मुख्य उद्देश्य राज्य के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रहने वाले हस्तशिल्पियों के सभी व्यापारियों, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची और पारंपरिक कारीगरों को प्रोत्साहित करना और आगे बढ़ना है। इस योजना के तहत, सरकार इन मजदूरों को 6 दिन का मुफ्त प्रशिक्षण देगी और साथ ही पारंपरिक स्थानीय कारीगरों और दस्तकारों को 10,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी, तांकि वे छोटे उद्योग स्थापित कर सके।

Vishwakarma Shram Samman Yojana के लाभ

  • पारंपरिक कारीगर और हस्तशिल्प कारीगर जैसे कि बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, कोबरा, आदि, जो उत्तर प्रदेश राज्य के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों से सम्बंधित है, को इस Vishwakarma Shram Samman Yojana का लाभ मिलेगा।
  • सभी लाभार्थियों को योजना के अंतर्गत 6 दिन का निःशुल्क प्रशिक्षण एवं 10,000 रुपये से 10,00,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ हर साल 15,000 से अधिक मजदूरों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए के लिए इच्छुक उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की सभी प्रशिक्षण की लागत का खर्च उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाया जाएगा।
  • यह योजना उत्तर प्रदेश में पारंपरिक मजदूरों को रोजगार और प्रोत्साहन देगी।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023 पात्रता मानदंड

वह सभी इच्छुक श्रमिक जो कुशल कारीगर श्रम योजना 2023 के तहत अपना पंजीकरण कराना चाहते हैं उन्हें दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से पूरा करना होगा।

  • केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी श्रमिक ही उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023 के तहत पंजीकरण कराकर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • आवेदक जो इस योजना का लाभ लेना चाहता है उसकी आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • इस योजना में पंजीकरण के लिए किसी भी प्रकार की शैक्षिक योग्यता की अनिवार्यता नहीं राखी गयी है।
  • केंद्र सरकार या राज्य सरकार से टूलकिट के संबंध में लाभ प्राप्त श्रमिक इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकता।
  • आवेदक के परिवार से केवल एक ही व्यक्ति इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र हैं।

इसके साथ ही किसी भी जाति, धर्म का व्यक्ति ऑनलाइन आवेदन कर सकता है यानि लाभ लेने के लिए किसी विशेष जाति या धर्म से संबंधित होना जरूरी नहीं है। वह व्यक्ति/श्रमिक जो परम्परागत करीगरी करने वाली जाति से भिन्न हो इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इसके आलावा परंपरागत करीगरी से जुड़े होने के प्रमाण के रूप मे ग्राम प्रधान, अध्यक्ष नगर पंचायत अथवा नगर पालिका / नगर निगम द्वारा निर्गत प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • कुशल कारीगर होने के सम्बन्द्द में प्रमाण
  • बैंक पासबुक की कॉपी
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

वह सभी श्रमिक जो ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं वह सभी आवश्यक दस्तावेजों की उपलब्धता की स्थिति में दिए गए चरणों के द्वारा ऑनलाइन मोड में UP विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश के उद्योग एवं प्रोत्साहन निदेशालय के आधिकारिक वेबसाइट पर पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “लॉग इन” सेक्शन में “आवेदक लॉग इन”  के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आपके द्वारा विकल्प पर क्लिक किये जाने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको बाई और दिए गए “नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
Vishwakarma Shram Samman Yojana
  • इसके बाद आपके सामने कंप्यूटर और मोबाइल स्क्रीन पर उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म 2021 खुल जायेगा।
UP Vishwakarma Shram Samman Yojana Registration
  • इस पेज पर आपको सभी पूछी गयी जानकारियों को दर्ज कर देना है। यहा आपसे निम् जानकारियों को दर्ज करना होगा।
    • नाम
    • पिता का नाम
    • ईमेल आईडी
    • जिला
    • जन्मतिथि
    • मोबाइल नंबर
  • सभी जानकारी दर्ज करके आप सबसे ऊपर के ड्राप डाउन मेन्यू में से अपने योजना का चयन करके कॅप्टचा कोड को भरते हुए “सबमिट” के बटन पर क्लिक कर दे।

इस प्रकार आपकी UP विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए ऑनलाइन मोड में पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन करने की प्रक्रिया

सफल रजिस्ट्रेशन के बाद आप यूपी विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए निचे दिए गए स्टेप्स द्वारा लॉगिन कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन निदेशालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनाके विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म में अपना यूजरनाम और पासवर्ड भरे।
  • अब कॅप्टचा कोड बॉक्स में कॅप्टचा कोड भरकर लॉगिन के बटन पर क्लिक करें। इस प्रकार आपके लॉगिन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

आवेदन की स्थिति देखने की प्रक्रिया

आप अपने द्वारा दर्ज आवेदन की स्थिति की भी जाँच कर सकते है इसके लिए दिए गए आसान से चरणों का पालन करे।

  • सबसे पहले आपको उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन निदेशालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनाके विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आवेदन की स्थिति का विकल्प चुने और आवेदन की स्थिति देखने के लिए फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में अपनी आवेदन संख्या भरें और उसके बाद अपने आवेदन की स्थिति जाने का बटन दबाये।
  • बटन पर क्लिक करते ही आपके आवेदन की स्थिति आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगी।

Helpline Number

वह सभी इच्छुक व्यक्ति जो इस योजना के तहत आवेदन करते समय किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना कर रहे हैं, वह दिए गए टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी के माध्यम से सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

  • पता: – उद्योग निदेशालय, ग्रांड ट्रंक रोड कानपुर, उत्तर प्रदेश
  • टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर: – +91(512) 2218401, 2234956
  • ईमेल आईडी: – dikanpur@nic.in , dikanpur@gmail.com

यह भी पढ़े – यूपी MSME लोन मेला: UP MSME Sathi Loan App, MSME लोन मेला ऑनलाइन आवेदन

हम उम्मीद करते हैं की आपको उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment