बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

बिहार राज्य फसल सहायता योजना | Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Online | बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन अप्लाई | Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Online Application | Bihar Fasal Sahayata Yojana Online Form

बिहार सरकार के द्वारा बिहार फसल सहायता पात्रता मानदंड एवं आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी आपको इस लेख में प्रदान की जाएगी किसानों को किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा की स्थिति में फसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए बिहार सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 की शुरुआत की है। इस योजमा के तहत बिहार सरकार द्वारा प्राकृतिक आपदा से फसलों के 20% नुकसान की स्थिति में प्रति हेक्टयेर 7500 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।

Table of Contents

Bihar Fasal Bima Yojana – बिहार राज्य फसल सहायता योजना

बिहार सरकार ने प्राकृतिक आपदा जैसे:- बाढ़, आंधी तूफान ओलावृष्टि आदि से फसलों के नुकसान की स्थिति में किसानो को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से बिहार राज्य फसल सहायता योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत बिहार राज्य सरकार द्वारा वास्तविक उपज दर में 20 % से अधिक फसलों का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 10000 धनराशि दी जाएगी। इस कल्याणकारी योजना का शुभारम्भ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा किया गया है, जिसे राज्य में एक अनोखी पहल के रूप में देख जा रहा है। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2021 के तहत किसानो की फसलों को मौसम ,बाढ़ से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकॉउंट में पहुचायी जाएगी।

Bihar Fasal Sahayata Yojana Apply

खरीफ मौसम की आवेदन प्रक्रिया हुई आरंभ

हम सब नागरिक जानते है की हमारे देश में किसानो को की परेशानियों  करना पड़ता है, जिसको देखते हुए बिहार सरकार ने बिहार राज्य फसल सहायता योजना को शुरू किया है और इस योजना को शुरू करने का मुख्य उदेश्य यह बताया है कि प्राकृतिक आपदाओं की वजह से होने वाले किसान के नुकसान के लिए किसानों को सहायता के रूप में मुआवजा दिया जाएगा, अब बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत कृषि विभाग और सहकारी विभाग के माध्यम से खरीफ सीजन के लिए तैयारियों को शुरू कर दिया गया हैं। वह सभी राज्य के पात्र किसान जो खरीफ फसल उगाते हैं और इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन सभी को इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर 31 जुलाई 2021 से पहले आवेदन करा ले, इसके अलावा सरकार ने यह भी बताया है कि फसल कटनी का कार्यक्रम 28 फरवरी 2022 को शुरू किया जाएगा।

किसानों को किया जाएगा मार्च-अप्रैल 2022 में भुगतान

हाल की घोषणा से पता चला है कि सरकार 15 मार्च 2022 को तय करेगी कि बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत मुआवजा कब दिया जाएगा। सरकार की ओर से सूचित किया गया है कि मार्च-अप्रैल 2022 के महीने में किसानों के बैंक खातों में लाभ डीबीटी के माध्यम से मुआवजा राशि प्रदान की जाएगी। हम आपको बता दें कि इस समय सोयाबीन धान मक्का की खेती करने वाले किसानों को ही आवेदन दिया जा रहा है। इन खेतों में से पूरा राज्य ही मक्का के लिए आवेदन कर सकता है और अगर सोयाबीन के लिए है तो केवल खगड़िया, बेगूसराय और समस्तीपुर जिले ही आवेदन कर सकते हैं, और इसी के साथ धान के निबंधन के लिए 527 प्रखंडों के किसान पात्र मने जाएंगे।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी/खरीफ सीजन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के तहत किसानो से फसलों के नुकसान पर दी जाने वाली वित्तीय सहायता के लिए किसी भी प्रकार का प्रीमियम नहीं लिए जायेगा। भारत में 63% से अधिक आबादी की आय का मुख्य साधन कृषि ही है। ऐसे में यह योजना बिहार के किसानो के लिए आर्थिक रूप से मदद करने का कार्य करेगी। ऐसे में बिहार की फसल बीमा योजना निश्चित रूप से किसानो के लिए एक कल्याणकारी योजना साबित होगी। इस योजना के तहत बिहार के किसी भी जिले में फसलों के नुकसान की स्थिति बिहार राज्य  फसल सहायता योजना के अंतर्गत पंजीकृत किसानो को सीधे बैंक खाते में वित्तीय सहयता राशि प्रदान की जाएगी।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021

फसल सहायता योजना के लिए आरंभ हुए निबंधन

बिहार राज्य फसल सहायता योजना में रबी फसल के लिए 2020-21 के पंजीकरण प्रक्रिया आरम्भ कर दी गयी है। सहकारिता विभाग ने 3 दिसंबर 2020 को, पंजीकरण करवाने के लिए एक अधिसूचना जारी की है। किसानों को, इस योजना के तहत किसी भी प्रकार के प्रीमियम का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। सरकार फसल के नुकसान की भरपाई भी करेगी। इस योजना का लाभ लेने के इच्छुक किसानो को आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। यह पंजीकरण गेहूं, मक्का, चना, मसूर, कबूतर, सरसों, ईख, प्याज और आलू की फसल के नुकसान की भरपाई के लिए किया जाएगा। सरकार द्वारा विभिन्न फसलों के लिए अलग-अलग पंजीकरण तिथियां प्रदान की गई हैं। वे सभी किसान जो इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उन्हें अंतिम तिथि से पहले पंजीकरण करवाना होगा।

इन फसलों की भरपाई की जाएगी

  • राज्य के 38 जिलों में गेहूं और मक्का को पंचायत स्तर पर बनाया गया है। इसके अलावा, जिला स्तर पर चना, मसूर, कबूतर, सरसों, सरसों, ईख, प्याज और आलू को अधिसूचित किया गया है।
  • चने की फसल का नुकसान होने की स्थिति में राज्य के 17 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, अगर मसूर की फसल पर नुकसान होता है, तो 35 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा।
  • अगर तुअर की फसल का नुकसान होता है, तो 22 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, अगर ईख की फसल को नुकसान हुआ, तो 16 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, राज्य के सभी जिलों को राई और सरसों की फसल का मुआवजा दिया जाएगा, अगर प्याज की फसल का नुकसान होता है, 14 जिलों को मुआवजा चुकाया जाएगा और अगर आलू की फसल पर कोई नुकसान हुआ है, तो 15 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा।
  • यदि नुकसान 20% से कम है, तो बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत प्रतिपूर्ति दर 7500 रूपए  प्रति हेक्टेयर है। प्रत्येक किसान अधिकतम 2 हेक्टेयर में इस योजना का लाभ उठा सकता है। यदि नुकसान 20% से अधिक है, तो उसे 10000 रूपए प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दिया जाता है।

बिहार फसल सहायता योजना आवेदन फॉर्म

बिहार में अधिकतर किसान धन और तिलहन की खेती करते है जिसपर बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से किसानो को बहुत नुकसान होता है। इससे निपटने के लिए किसानो को खरीफ, रबी तथा तिलहन की फसल के सीजन में बिहार फसल सहायता योजना के लिए ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन फॉर्म भरकर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके पश्चात् किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा की स्थिति में किसानो को फसलों के 20% से अधिक के नुकसान पर वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी। सभी इच्छुक किसान भाई rcdonline.bih.nic.in आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के लिए ऑनलाइन मोड में रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

Overview of Bihar Fasal Bima Yojana

योजना का नामबिहार राज्य फसल सहायता योजना
आरम्भ की गईबिहार सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान भाई
रजिस्ट्रेशन की प्रकियाऑनलाइन
विभागसहकारिता विभाग
लाभप्राकृतिक आपदा की स्थिति में वित्तीय सहायता
श्रेणीबिहार सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटepacs.bih.nic.in/brfsy/public/

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का प्रमुख उद्देश्य

भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहाँ की 63% से अधिक आबादी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से कृषि से जुडी हुई है। ऐसे में यदि प्राकृतिक आपदा की स्थिति में वित्तीय सहायता से किसानो की फसलों की हानि होती है तब किसान के लिए अपने दैनिक खर्चो को पूरा करना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में बिहार सरकार की बिहार फसल बीमा योजना के तहत किसानो को फसलों के नुकसान की भरपाई की जाती है। यह सहायता राशि सीधे किसानो के बैंक खाते में प्रदान की जाती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना है।

फसल निबंधन की अंतिम तिथि

फसल का नामनिबंधन की अंतिम तिथि
गेहूं26 फरवरी 2021
मक्का26 फरवरी 2021
चना31 जनवरी 2021
मसूर15 फरवरी 2021
अरहर28 मार्च 2021
ईख28 फरवरी 2021
प्याज़15 फरवरी 2021
आलू31 जनवरी 2021
राई – सरसो31 दिसंबर 2020

PM Fasal Sahayata Scheme के लाभ

  • बिहार सरकार की इस योजना का लाभ उन किसानो को दिया जायेगा जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा की स्थिति में 20% ऐसे अधिक ख़राब हो चुकी है।
  • बिहार राज्य के किसानो की फसलों को वास्तविक उपज दर में 20 % से अधिक नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 10000 रूपये तक की धनराशि प्रदान की जाएगी ।
  • सभी किसानो को सहायता राशि सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी जिससे पारदर्शिता बनाये रखने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना के तहत बाढ़, आंधी, ओलावृष्टि तथा बेमौसम बारिश से होने वाली हानि को भी शामिल किया गया है।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के तहत किसानो की फसलों के वास्तविक उपज दर में 20% नुकसान की स्थिति में प्रति हेक्टेयर 7,500 रूपये की धनराशि सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।

बिहार फसल बीमा योजना 2021 पात्रता मानदंड

किसानों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुर की गयी किसान फसल सहायता योजना का लाभ लेने के लिए दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से पूरा करना होगा।

  • केवल बिहार के स्थायी निवासी किसान भाई ही फसल सहायता योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • किसान का बैंक खाते के आधा से जुड़े होने की स्थिति में ही उसे फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • वही किसान बिहार फसल बीमा योजना का लाभ ले सकता है जिसकी फसल को किसी प्राकर्तिक आपदा से नुकसान हुआ है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेतु निम्न कागजात की स्व प्रमाणित प्रति

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • बैंक का आधार से जुड़ा होना अनिवार्य है
  • खेती की ज़मीन के कागज़ात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इसके अतिरिक्त आपको निम्न प्रमाण पत्रों की स्वयं प्रमाणित प्रति भी आवेदन के समय अवश्य रूप से अपने साथ रखनी है।

रैयत कृषक के लिए

  • भू-स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • स्वघोषणा प्रमाण पत्र

गैर रैयत कृषक के लिए

  • स्व- घोषणा प्रमाण पत्र

प्राप्त किये गए कुल आवेदन

  • बिहार फसल सहायता का लाभ लेने के लिए अब तक कुल 810070 आवेदन (खरीफ-19),1150527 (खरीफ -18 )
  • गेहू अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 7479
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी सीजन 2018 -19 हेतु प्राप्त कुल आवेदन 1754350

बिहार राज्य फसल सहायता योजना आवेदन के सम्बन्ध में आवश्यक दिशानिर्देश

  • पहचान पत्र की कॉपी (400 KB से साइज की पीडीऍफ़ फॉर्मेट में)
  • पासपोर्ट साइज फोटो (50 KB से कम साइज में)
  • बैंक पासबुक के पहले पृष्ठ की कॉपी (400 KB से साइज की पीडीऍफ़ फॉर्मेट में)
  • आवासीय प्रमाण की कॉपी  (400 KB से साइज की पीडीऍफ़ फॉर्मेट में)

अपडेट: – इस समय तक बिहार में फसल सहायता योजना के तहत खरीफ -19 में 810070 तथा खरीफ-18 में 1150527 आवेदन प्राप्त हुए हैं। वही  बी 2018 -19 हेतु प्राप्त कुल आवेदन 1754350 तथा अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 7479 प्राप्त हुए हैं।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 आवेदन कैसे करे?

आपके द्वारा उपरोक्त सभी पात्रता मानदंडों को पूरा किये जाने की स्थिति, तथा आवश्यक दस्तावेजों की उपलब्धता में आप दिए गए चरणों के द्वारा ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको सहकारिता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको हाईलाइट हो रहे रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • इस पेज पर आपसे आपके आधार कार्ड की उपलब्धता के विषय में जानकारी मांगी जाएगी। आपको आधार है या नहीं का विकल्प दिखाई देगा, अगर आपके पास आधार है तो हाँ के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • आधार कार्ड है “हां” के विकल्प का चुनाव करने के बाद एक नया पेज खुल जायेगा। यहाँ आपको आधार नंबर दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपके आधार कार्ड के अनुरूप स्क्रीन पर जानकारी दिखाई जाएगी। आप जानकारी की जांच के पश्चात् “सबमिट” पर क्लिक कर दे। इस प्रकार आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।

फसल सहायता निरीक्षण ऐप रबी डाउनलोड कैसे करे?

बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • अब आप गूगल प्ले स्टोर पर रिडायरेक्ट हो जायेंगे। यहा आपको दिए गए चित्र के अनुसार एक ऐप दिखाई देगा।
  • आप इस बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण ऐप रबी डाउनलोड पर क्लिक करके ऐप को डाउनलोड कर सकते

बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण ऐप खरीफ डाउनलोड कैसे करे?

Fasal Sahayata Yojana Bihar
  • अब आप गूगल प्ले स्टोर पर रिडायरेक्ट हो जायेंगे। यहा आपको दिए गए चित्र के अनुसार एक ऐप दिखाई देगा।
  • आप इस बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण मोबाइल ऐप पर क्लिक करके ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं।

पात्र ग्राम पंचायत की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको लिस्ट ऑफ एलिजिबल ग्राम पंचायत के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
Fasal Bima Yojana Bihar
  • इस पेज पर आपको दिए गए स्थान में अपने जिले, वर्ष और ब्लॉक का चयन करना होगा।
  • सभी जानकारियों का चयन करने के बाद आप व्यू के बटन पर क्लिक कर दे। पात्र अब ग्राम पंचायत की सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ) हेतु कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर क्लिक करना है। अब एक ड्राप डाउन मेन्यू खुल जाएगी इसमें बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ 2018-19) के लिंक पर क्लिक करे।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना खरीफ
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। इस पेज में अपने जिले का चयन करे। 
  • जिले के नाम को चुनते ही उस जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंड की सूचि खुल जाएगी।
  • अपने प्रखंड का चुनाव करे और फिर प्रखंड के अंतर्गत आने वाली पंचायत चुने।  पंचायत का चयन करते ही आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ) हेतु कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन देख सकते है।    

बिहार राज्य फसल सहायता योजना (रबी-2018) हेतु कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर क्लिक करना है। अब एक ड्राप डाउन मेन्यू खुल जाएगी इसमें बिहार राज्य फसल सहायता योजना (रबी 2018-19) के लिंक पर क्लिक करे।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। यहाँ आप  जिला, प्रखंड  और पंचायत के अनुसार जानकारी प्राप्त कर सकते  है। इस पेज में अपने जिले का चुनाव करे। 
  • जिले के नाम को चुनते ही उस जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंड की सूचि खुल जाएगी।
  • अपने प्रखंड का चयन करे और फिर प्रखंड के अंतर्गत आने वाली पंचायत चुने।  पंचायत का चयन करते ही आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ) हेतु कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन देख सकते है।    
  • आप इस रिपोर्ट को प्रिंट भी कर सकते है।

धान अधिप्राप्ति के लिए कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर क्लिक करना है। अब  एक ड्राप डाउन मेन्यू खुल जाएगी इसमें धान अधिप्राप्ति 2018-19 के लिंक पर क्लिक करे।
धान अधिप्राप्ति के लिए कृषकों का ऑनलाइन निबंधन
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। इसके बाद आपके सामने एक नयी सूची खुल जाएगी। इस सूचि में आप उस जिले का चुनाव करे जिसके अंतर्गत आप आते है|
  • जिले के चुनाव के बाद जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंडों की सूचि आपकी स्क्रीन पर होगी। इन प्रखंडों में से अपने प्रखंड का चयन करे और फिर उस प्रखंड के अंतर्गत आने वाली पंचायतो में से अपनी पंचायत का नाम ढूंढे।
  • अपनी पंचायत के नाम के अंतर्गत  आने वाले आवेदन  की संख्या पर क्लिक करे और एक नयी सूचि में आपको सभी नामो के साथ जानकरी मिल जाएगी| इनमे से उपर्युक्त नाम ढूंढे और स्थिति देखे।

गेहूँ अधिप्राप्ति के लिए कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर क्लिक करना है। अब  एक ड्राप डाउन मेन्यू खुल जाएगी इसमें गेहूँ अधिप्राप्ति 2018-19 के लिंक पर क्लिक करे।
गेहूँ अधिप्राप्ति के लिए कृषकों का ऑनलाइन निबंधन
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा। इसके बाद आपके सामने एक नयी सूची खुल जाएगी। इस सूचि में आप उस जिले का चुनाव करे जिसके अंतर्गत आप आते है|
  • जिले के चुनाव के बाद जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंडों की सूचि आपकी स्क्रीन पर होगी। इन प्रखंडों में से अपने प्रखंड का चयन करे और फिर उस प्रखंड के अंतर्गत आने वाली पंचायतो में से अपनी पंचायत का नाम ढूंढे।
  • अपनी पंचायत के नाम के अंतर्गत  आने वाले आवेदन  की संख्या पर क्लिक करे और एक नयी सूचि में आपको सभी नामो के साथ जानकरी मिल जाएगी| इनमे से उपर्युक्त नाम ढूंढे और स्थिति देखे।

योग्य ग्राम पंचायतो की सूची ऑनलाइन देखे

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “योग्य ग्राम पंचायतो की सूची” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
योग्य ग्राम पंचायतो की सूची
  • अब सीजन भाग में रबी और खरीफ में से किसी एक का चुनाव करे।  इसके बाद अपने जिले का चुनाव करे।
  • जिले के चुनाव के बाद अपने ब्लॉक का चुनाव करे और फिर राय का बटन दबाये|
  • आपके द्वारा राय का बटन दबाते ही आकलन के आधार पर योग्य ग्राम पंचायतों की सूची आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगी, जहा आप फसल कटनी प्रयोग प्रतिवेदन के आधार पर देख सकते है की पंचायत योग्य है या अयोग्य।

अधिप्राप्ति हेतु आवेदन करने की प्रक्रिया

अधिप्राप्ति हेतु आवेदन करने के लिए आप नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन कर सकते है

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “LINK – 2(केवल अधिप्राप्ति हेतु)” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको  बहुत से लिंक दिखाई देंगे। इनमे से “अधिप्राप्ति हेतु आवेदन देने के लिए यहाँ क्लिक करें !!” के विकल्प का चयन करे।
  • अब एक नयी वेबसाइट आपके सामने खुल जाएगी। यहाँ मेन्यू में ऑनलाइन आवेदन करे ऑप्शन के अंतर्गत कृषि इनपुट अनुदान योजना (2020 – 21) के विकल्प का चयन करे।
  • एक एप्लीकेशन फॉर्म आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जायेगा इस फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरे और इस सबमिट कर दे।

अधिप्राप्ति हेतु आवेदन प्रिंट करने की प्रक्रिया

अधिप्राप्ति हेतु आवेदन करने के के बाद अपने अपने आवेदन का प्रिंट भी ले सकते है। इसके लिए आप नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन कर सकते है

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “LINK – 2(केवल अधिप्राप्ति हेतु)” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको  बहुत से लिंक दिखाई देंगे। इनमे से “अधिप्राप्ति हेतु आवेदन को प्रिंट करने के लिए यहाँ क्लिक करें ! !” के विकल्प का चयन करे।
  • अब एक नया पेज आपकी स्क्रीन पर खुल जायेगा। इस पेज पर दिए गए बॉक्स में कृषि विभाग के किसान निबंधन संख्या भरे और सर्च का बटन दबाये।
  • आवेदन फॉर्म आपकी  कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जायेगा। अब प्रांत का बटन दबाकर आप अपने आवेदन फॉर्म का प्रिंट ले सकते है।

अधिप्राप्ति हेतु अस्वीकृत आवेदन में सुधार करने की प्रक्रिया

अधिप्राप्ति हेतु आवेदन करने के के बाद यदि आपका आवेदन अस्वीकार कर लिया गया है तो आप नीचे दिए गए चरणों का पालन करके आवेदन में सुधार कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “LINK – 2(केवल अधिप्राप्ति हेतु)” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको  बहुत से लिंक दिखाई देंगे। इनमे से “अधिप्राप्ति हेतु अस्वीकृत आवेदन को सुधार करने के लिए यहाँ क्लिक करें ! !” के विकल्प का चयन करे।
  • अब एक नया पेज आपकी स्क्रीन पर खुल जायेगा। इस पेज पर दिए गए बॉक्स में कृषि विभाग के किसान निबंधन संख्या भरे और सर्च का बटन दबाये।
  • आवेदन फॉर्म आपकी  कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जायेगा। अब आप इस फॉर्म में संभव बदलाव कर सकते है।

डिजिटल सेवा कनेक्ट लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको लॉगइन विद डिजिटल सेवा कनेक्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
डिजिटल सेवा कनेक्ट लॉगइन
  • अब आपको इस पेज पर अपना यूजरनेम या ईमेल आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भर देना है।
  • आपके द्वारा सभी जानकारी दर्ज करने के बाद, अब आपको साइन इन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस तरह आप डिजिटल सेवा कनेक्ट लॉगइन कर सकते है।

Helpline Number

इस लेख में आपको Bihar Fasal Sahayata Yojana के आवेदन और अन्य विवरण की जानकारी दी गयी है। अगर आप अभी भी आवेदन के समय किसी समस्या कर रहे हैं तब आप हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके या ईमेल आईडी के माध्यम से मदद ले सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी की जानकारी इस प्रकार हैं।

  • Helpline Number- 18003456290
  • Email Id- kisanreghelp@gmail.com

Important Downloads

यह भी पढ़े – बिहार राशन कार्ड धारक 1000 रुपये भत्ता योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत कितनी सहायता राशि दी जाती है?

इस योजना के तहत 20% तक फसल एक नुकसान की स्थिति में 7500 रूपये तक कि सहायता दी जाएगी।

किसान के 20% से अधिक फसल के नुकसान की स्थिति में कितनी सहायता राशि दी जाएगी?

इस स्थिति में किसान को प्रति हेक्टेयर पर 10000 रुपये की सहायता दी जाएगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट कौन-सी है?

http://rcdonline.bih.nic.in/fsy/

4 thoughts on “बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म”

    • इसके लिए सभी जानकारी लेख में दी गई है कृपया लेख को पूरा पढ़े।

      Reply

Leave a Comment