किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021: pmkisan.gov.in New List, पीएम किसान किस्त

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट, पीएम किसान नवंबर किस्त, Kisan Samman Nidhi 7th List, किसान सम्मान निधि 7th क़िस्त, किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021, Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana List 2021, किसान सम्मान निधि योजना सूची को केंद्र सरकार द्वारा ऑनलाइन पोर्टल पर जारी कर दिया गया है। देश के जिन छोटे व सीमान्त किसानों द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया गया था, पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर लाभार्थी नई सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के अंतर्गत जिन किसानों द्वारा आवेदन किया गया था, यदि उनका किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021 में आया है, तो उनको केंद्र सरकार के द्वारा 6000 रुपए की आर्थिक सहायता तीन किस्तों में प्रदान की जाएगी। इस लेख में हम आपको Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana List 2021 में नाम देखने, मोबाइल ऐप डाउनलोड करने, स्थानांतरित धनराशि आंकड़े और रिजेक्टेड लिस्ट में नाम देखने के चरणों को साझा करेंगे।

Table of Contents

PM Kisan Samman Nidhi 7th Installment

हम जानते हैं कि पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा हर साल किसानों को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। केंद्र सरकार दो हजार रूपए की तीन किश्तों में यह राशि प्रदान करती है। इस आर्थिक को सहायता केंद्र सरकार द्वारा 4 महीने के अंतराल पर प्रदान की जाती है। हमारे देश के प्रधानमंत्री जी द्वारा दिनांक 25 दिसंबर 2020 को किसान सम्मान निधि योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदकों के खाते में सातवीं क़िस्त की राशि आ जाएगी।

पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम की छठी किस्त के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 17000 करोड रुपए की धनराशि 8.5 करोड़ किसानों के बैंक खातों में भेजी जा चुकी है। इस छठी किश्त की धनराशि को केंद्र सरकार द्वारा डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर(डीबीटी) के जरिये ट्रांसफर किया गया है। यदि आपने पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के अंतर्गत आवेदन किया है, तो आपके बैंक अकाउंट में यह छठी किश्त की राशि आपके बैंक अकाउंट में आ चुकी होगी।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 8वीं किस्त जल्द जारी की जाएगी

हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत 7वी किस्त की राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचाई गई है। अब सरकार द्वारा जल्द किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट की 8वीं किस्त की राशि पूरे देश के किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचाई जाएगी। इस बार पश्चिम बंगाल के किसानों तक भी किसान सम्मान निधि योजना की राशि पहुंचने की संभावना है। क्योंकि अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री द्वारा इस योजना को पश्चिम बंगाल में लागू करने का निर्णय लिया गया है। ममता बनर्जी द्वारा केंद्र सरकार से पश्चिम बंगाल के सभी किसानों का विवरण मांगा गया है जिन्होंने केंद्र सरकार के पोर्टल पर पंजीकरण करवाया था।

ममता बनर्जी को, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा एक पत्र लिखा गया है जिसमें उन्होंने एक नोडल अधिकारी नियुक्त करने की भी अपील की है और यह बताया है की पश्चिम बंगाल में इस योजना को लागू करने से 20 लाख से अधिक किसान लाभान्वित होंगे।

किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए, आपके पास सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, बैंक खाता आदि होना चाहिए और खाते को आधार से जोड़ना भी अनिवार्य है, क्योंकि लाभ की राशि किसानों के बैंक खाते में सीधे हस्तांतरित की जाएगी।

PM Kisan 7th किस्त स्टेटस ऑनलाइन चेक

जैसा कि आप जानते हैं, सरकार हर साल किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। यह वित्तीय सहायता 6000 रूपए की होती है, जो 2000-2000 की किस्तों में सरकार द्वारा प्रदान की जाती है। अब तक छह किस्तें इस योजना के तहत सरकार द्वारा प्रदान की गई  है। अगस्त के महीने में छठी किस्त प्रदान की गई थी और अब सरकार किसानों को सातवीं किस्त देने की तैयारी कर रही है। पीएम किसान 7th किस्त 25 दिसंबर 2020 से जारी की जाएगी। जिन किसानों ने किसान सम्मान निधि योजना के तहत आवेदन किया है, उन्हें किसान सम्मान निधि की सातवीं किस्त उनके बैंक खाते में डाल जाएगी।

  • यह किस्त इस वित्तीय वर्ष 2020-21 की तीसरी और अंतिम किस्त है।
  • हर साल किसान सम्मान निधि योजना के तहत पहली किस्त अप्रैल और जुलाई के बीच आती है और दूसरी किस्त अगस्त और नवंबर के बीच की है।
  • योजना की तीसरी किस्त दिसंबर और मार्च के बीच आती है। अगर आपने अभी भी  योजना के तहत आवेदन नहीं किया है, तो आप आवेदन के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।
  • अब तक 11 करोड़ किसान इस योजना के तहत  आवेदन कर लाभान्वित हुए हैं।

बीपीएल सूची 2021

pmkisan.gov.in New List 2021

देश के छोटे और सीमांत किसान जिन्होंने अभी तक पीएम किसान  सम्मान निधि योजना के तहत आवेदन नहीं किया है, वे जल्द से जल्द आवेदन करें और फिर अपना नाम पीएम किसान सम्मान निधि योजना नई लिस्ट 2021 में देखें और इस योजना का लाभ उठाएं। इस सूची के तहत सरकार, छोटे और सीमांत किसान  जिनके पास 2 हेक्टेयर तक की भूमि है, को भी वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।  सभी किसान, लाभार्थी सूची में अपना नाम घर बैठे, इंटरनेट के माध्यम से आसानी से देख सकते हैं। आपकी सुविधा के  हमने, पीएम किसान सम्मान निधि योजना नई लिस्ट 2021 में अपना नाम देखने की सम्पूर्ण प्रक्रिया नीचे दे दी है।

किसान सम्मान निधि योजना सूची दिसंबर अपडेट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हितकारी योजना किसान सम्मान निधि के तहत सातवीं क़िस्त की राशि 25 दिसम्बर को किसानो के खाते में पहुंचा दी जाएगी। पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 11 करोड़ 33 लाख पंजीकृत किसान भाई थे जिनमे से 1.38 करोड़ किसानों का नाम आवेदन में त्रुटि और अन्य कारणों से लिस्ट से हटा दिया गया है। अब केवल 9 करोड़ 97 लाख किसान भाई ही किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र हैं। वह सभी किसान जो योजना के तहत पात्र न होने के बाद भी लाभ ले रहे थे अब उनसे सरकार के द्वारा वसूली का प्लान तैयार किया जा रहा है।

  • महाराष्ट्र राज्य में कुछ मामले सामने आये हैं जहां इनकम टैक्स देने वाले किसानों ने भी इस योजना का लाभ उठाया है। बताते चले की महाराष्ट्र में 2.30 लाख अनुमानित किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभान्वित किया गया था। अब जांच के बाद इन किसानो का नाम लिस्ट से हटा दिया गया है, अभी 208.5 करोड़ रुपए अपात्र किसानो को दिए जा चुके हैं।
  • इसके साथ ही तमिलनाडु में भी 5.95 लाख लाभार्थी किसानों की जाँच की गयी जिनमे से 5.38 लाख किसान अपात्र थे जिनसे वसूली की तैयारी की जा रही है।

किसानों के खाते में पैसे ट्रांसफर करने की प्रक्रिया

किसानों को किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार द्वारा वित्तीय सहायता दी जाती है।  किसानों को यह वित्तीय सहायता केंद्र सरकार द्वारा तभी प्रदान की जाती है जब राज्य सरकार किसानों की पुष्टि करती है। यह सत्यापन किसानों का सही राजस्व रिकॉर्ड, आधार नंबर और बैंक खाता प्राप्त करके किया जाता है। राज्य सरकार द्वारा सत्यापित किए जाने तक किसान इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं। जब राज्य सरकार किसानों की पुष्टि करती है, तो राज्य सरकार द्वारा एक फंड ट्रांसफर ऑर्डर जारी किया जाता है। इसके बाद, केंद्र सरकार किसानों के खाते में सीधे लाभ हस्तांतरण के माध्यम से पैसा भेजती है।

अब पश्चिम बंगाल में भी लागू की जाएगी यह योजना

पीएम किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी एक महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के तहत, किसानों को तीन किश्तों में प्रति वर्ष 6000 रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। अब तक यह योजना पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा लागू नहीं कि गयी थी उनकी यह शर्त थी कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना में दी जाने वाली राशि सीधे किसानों के खाते में स्थानांतरित न करके राज्य सरकार के खाते में भेजी जाए। परन्तु केंद्र सरकार ने इस शर्त को नहीं माना। परन्तु अब इस शर्त को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा वापस ले लिया गया है।

अब पश्चिम बंगाल के किसान भी पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले सकेंगे। राज्य के मुख्यमंत्री ने इस योजना को शुरू करते हुए कहा कि उन्हें इस योजना के कार्यान्वयन में कोई समस्या नहीं है और योजना के लिए उन्होंने उन सभी किसानों का विवरण मांगा है। जिन किसानो ने पीएम किसान सम्मान निधि वेबसाइट पर पंजीकरण किया है उन सभी किसानों की सूची को जल्द से जल्द राज्य सरकार द्वारा सत्यापित किया जाएगा।

अटल जयंती पर जारी होगी पीएम किसान की 7वी क़िस्त

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 25 दिसम्बर 2020 को ९ करोड़ किसानो के बैंक खाते में किसान सम्मान निधि योजना के तहत 18 हजार करोड़ की राशि ट्रांसफर करेगी। PM किसान सम्मान की सातवीं क़िस्त को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी स्वयं जारी करेंगे। अटल जयंती के मौके पर किसानो के बैंक खाते में किसान सम्मान निधि की 7वी क़िस्त को जारी किया जायेगा। बताते चले की 25 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का जन्म दिवस मनाया जाता है और इसी दिन किसानो के बैंक खाते में राशि ट्रांसफर की जाएगी।

  • केंद्र सरकार वर्ष 2022 तक किसानो की आय को दोगुना करने को लेकर लगातार कार्य कर रही है इसी उसी दिशा में एक कदम माना जा रहा है।
  • किसान सम्मान निधि के तहत दी जाने वाली यह किसानो के लिए रबी और धान की फसल के समय में आर्थिक मदद देने का कार्य करेगी।

किसान सम्मान निधि योजना में महत्वपूर्ण बदलाव

जब किसान सम्मान निधि योजना को अनौपचारिक रूप से शुरू किया गया था, तो यह पात्रता मानदंड में यह  निर्धारित किया गया था कि केवल जिन किसानों के पास, पास 2 हेक्टेयर से अधिक भूमि है, वे इस योजना का लाभ उठा सकेंगे, लेकिन अब केंद्र सरकार ने इस सीमा को समाप्त कर दिया, जिसके कारण इस योजना के  लाभार्थी किसानों की संख्या  12 करोड़ से बढ़कर 14.5 करोड़ तक पहुंच गयी है।

पीएम किसान 6th किस्त

यदि आपने पिछले वर्ष में पांच किस्तें प्राप्त की हैं, तो छठी किस्त भी आपके बैंक खाते में स्वतः जमा हो जाएगी।यदि किसी भी कारण से आपके खाते में कोई पैसा नहीं आता, तो आपको अपने बैंक खाते का नाम आधार के नाम जैसा बनाना होगा, इसके लिए आप नीचे दी गई प्रक्रिया का उपयोग करके आसानी से बदलाव कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप हेल्पलाइन नंबर पर भी संपर्क कर सकते हैं।

पीएम किसान सम्मान योजना छठी किस्त न्यू लिस्ट

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक पीएम किसान की पांचवी किस्त अप्रैल 2020 के अंतर्गत कुल 9 करोड़ किसानों के अकाउंट में करीब 18000 करोड रुपए की रकम भेजी जा चुकी है। केंद्र सरकार द्वारा दिनांक 10 अप्रैल 2020 तक कुल 7 करोड़ किसानों के बैंक अकाउंट में ₹14000 की धनराशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिये भेजे जाने की पुष्टि की गई है। अब वर्ष 2020-21 के अंतर्गत पीएम किसान छठी किस्त 17000 करोड रुपए की धनराशि 8.5 करोड़ किसानों के बैंक खातों में भेजी जा चुकी है।

PM Kisan Pehchan Patra

केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए चलायी जा रही योजनाओ के सफल एवं पारदर्शी तरीके से कार्यान्वयन के लिए किसान आईडी (Unique farmer ID) पहचान पत्र की शुरुआत की है। इस किसान आईडी को पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम और राज्यों द्वारा शुरू की गयी अन्य योजनाओ के डेटा के साथ जोड़ा जायेगा। इस डेटाबेस के आधार पर किसानों का विशिष्‍ट किसान पहचान पत्र बनाया जायेगा।

इस डेटाबेस के आधार पर किसानों का विशिष्‍ट किसान पहचान पत्र बनाया जायेगा जिससे किसान पहचान पत्र की सहायता से सरकारी योजनाओ के लाभ आसानी से प्राप्त कर सकेंगे। वही इससे सरकार के पास भी लाभार्थियो की जानकारी उपलब्ध होगी। किसान पहचान पत्र के द्वारा कंप्यूटरीकरण (Digitization) की प्रक्रिया से आवेदनकर्ता का वेरिफिकेशन आसान हो जायेगा।

यह भी पढ़े किसान सम्मान निधि 7वी क़िस्त की राशि के न आने की स्थिति में यहां क्लिक करे

Overview of Kisan Samman Nidhi Yojana List 2021

योजना का नामकिसान सम्मान निधि योजना न्यू लिस्ट 2021
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार द्वारा
आरम्भ का वर्ष1-12-2018
लाभार्थीछोटे और सीमांत किसान
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
पीएम किसान लिस्ट में नाम देखने की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्य किसानों को आर्थिक मदद पहुँचाना
अप्रैल में किसानों को जारी की गयी धनराशि7,384 करोड़ रूपये
लाभ6000 रू की आर्थिक मदद
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.pmkisan.gov.in/

किसानों को लाभ पहुँचाने के तरीके

  • प्रधानमंत्री किसान निधि योजना के तहत, लाभार्थी किसान को हर साल 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • राशि 3 किस्तों में प्रदान की जाएगी, जो 4 महीने के अंतराल पर उपलब्ध होगी।
  • पहली किस्त अप्रैल और जुलाई के बीच दी जाएगी, दूसरी किस्त अगस्त और नवंबर के बीच दी जाएगी और तीसरी किस्त दिसंबर और मार्च के बीच दी जाएगी।
  • आधार लिंक का कार्यान्वयन इलेक्ट्रॉनिक डेटा के माध्यम से किया जाएगा, जिसके तहत उन सभी परिवार के सदस्यों को जानकारी उपलब्ध होगी जो भूमि रिकॉर्ड के तहत आते हैं।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आधार नंबर देना अनिवार्य है। इस योजना का लाभ आधार नंबर के बिना प्रदान नहीं किया जाएगा।
  • असम, मेघालय और जम्मू और कश्मीर के लिए आधार संख्या अनिवार्य नहीं है। क्योंकि वहां कई नागरिकों का आधार कार्ड नहीं है। इन तीनों राज्यों के नागरिकों को 31 मार्च 2021 तक आधार संख्या प्रदान करना अनिवार्य नहीं है।
  • लाभार्थी किसानों की सूची सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा प्रमाणित और अपलोड की जाएगी और इस सूची के माध्यम से धनराशि को इलेक्ट्रॉनिक रूप से लाभार्थी के खाता संख्या और IFSC कोड के आधार पर लाभार्थी के खाते में स्थानांतरित किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत वित्तीय सहायता सीधे लाभ हस्तांतरण के माध्यम से लाभार्थियों के खाते में भेज दी जाएगी।
  • सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए यह सुनिश्चित करना अनिवार्य है कि सभी लाभार्थियों ने किसान सम्मान निधि पोर्टल पर अपना विवरण दर्ज किया हो।
  • केंद्र शासित प्रदेश और राज्य सरकार द्वारा यह सुनिश्चित करना भी अनिवार्य है कि किसानों द्वारा अपलोड किया गया विवरण सही है या नहीं।
  • योजना के लाभार्थियों के फंड को केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार को हस्तांतरित किया जाएगा।
  • राज्य सरकारों द्वारा लाभार्थियों को जल्द से जल्द धनराशि पारित की जानी है।

किसान सम्मान निधि योजना का कार्यान्वयन

  • किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों की सूची सभी राज्यों सरकार द्वारा तैयार की जाएगी।
  • इस सूची के तहत लाभार्थी का नाम, आयु, लिंग, श्रेणी, आधार संख्या, बैंक खाता संख्या और मोबाइल नंबर होगा।
  • इस योजना के तहत, पात्र किसान लाभार्थी की पहचान करने की जिम्मेदारी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश के पास होगी।
  • उन सभी राज्यों (असम, मेघालय, जम्मू और कश्मीर) जिनके कई नागरिकों को अभी तक आधार नंबर जारी नहीं किया गया है, उन्हें पहचान सत्यापन के लिए वैकल्पिक दस्तावेजों जैसे आईडी कार्ड, नरेगा जॉब कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि का विवरण मिलेगा। इन राज्यों के नागरिक जिनके पास आधार संख्या है, उनसे लिया जाएगा।
  • यह सुनिश्चित करना राज्य और केंद्र सरकार की जिम्मेदारी होगी कि किसी भी लाभार्थी को भुगतान प्राप्त करने में कोई कठिनाई न हो।
  • यदि लाभार्थी द्वारा गलत बैंक विवरण या अपूर्ण बैंक विवरण प्रदान किए गए हैं, तो मामले को भी जल्द से जल्द हल किया जाएगा।
  • लाभार्थियों की पहचान करने के लिए राज्यों की मौजूदा भूमि स्वामित्व प्रणाली का उपयोग किया जाएगा।
  • इसके लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि भूमि का रिकॉर्ड स्पष्ट और अद्यतन हो।
  • सरकार भूमि के रिकॉर्ड को भी डिजिटल करेगी और उन्हें आधार नंबर से लिंक करेगी।
  • सभी पात्र लाभार्थियों की सूची जिला स्तर पर उपलब्ध कराई जाएगी।
  • वे सभी किसान परिवार जो पात्र हैं, लेकिन उन्हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जा रहा है, उन्हें उनके मामले का प्रतिनिधित्व करने का अवसर प्रदान किया जाएगा।

पीएम किसान योजना की कुछ मुख्य बातें

  • किसानों के लिए बनाई गई यह योजना सरकार द्वारा 100 प्रतिशत वित्त पोषित है।
  • यह योजना 01 दिसंबर 2018 से किसानों के लिए काम कर रही है।
  • इस योजना के तहत, प्रत्येक किसान को तीन किस्तों में 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, अर्थात 2000 रूपए हर 4 महीने में किसानों के खाते में सरकार द्वारा जमा किये जाते  है।
  • योजना के तहत, सरकार और केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों का चयन किया जाता है।
  • यह राशि किसानों के खाते में सीधे बैंक हस्तांतरण के माध्यम से दी जाती है।
  • प्रत्येक किसान को योजना के तहत पंजीकरण करने से पहले, सरकार द्वारा नामित राजस्व अधिकारी / स्थानीय पटवारी / नोडल अधिकारी (पीएम-किसान) से संपर्क करना होगा।
  • फीस के भुगतान पर योजना के लिए किसानों को पंजीकृत करने के लिए सामान्य सेवा केंद्रों (सीएससी) को अधिकृत किया गया है।
  • पोर्टल में किसान कॉर्नर के माध्यम से किसान स्वयं पंजीकरण भी कर सकते हैं।
  • किसान अपने आधार डेटाबेस / कार्ड के अनुसार पीएम-किसान डेटाबेस में पोर्टल में किसान कॉर्नर के माध्यम से अपना नाम भी संपादित कर सकते हैं।
  • पीएम किसान पोर्टल के जरिए, हर किसान अपने भुगतान की स्थिति जान सकता है।

पीएम किसान पहचान पत्र लाभार्थियों की जानकारी

सबसे पहले किसान पहचान पत्र के लिए पीएम-किसान योजना के तहत रजिस्टर्ड करीब 10 करोड़ किसानों को कवर किया जा रहा है। इसमें काश्तकार, कृषि श्रमिक, बटाईदार, पट्टेदार, मुर्गीपालक, पशुपालक, मछुआरे, मधुमक्खी पालक, माली, चरवाहे आते हैं। रेशम के कीड़ों का पालन करने वाले, वर्मीकल्चर तथा कृषि-वानिकी जैसे विभिन्न कृषि-संबंधी व्यवसायों से जुड़े व्यक्ति भी किसान हैं, इन्हे भी शामिल किया जायेगा।

केंद्र सरकार के पास पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत करीब 10 करोड़ किसान परिवारों का आधार, बैंक अकाउंट नंबर और उनके रेवेन्यू रिकॉर्ड की जानकारी एकत्र हो चुकी है। यदि इस डेटाबेस को मिलाकर पहचान पत्र बनाने की कल्पना साकार होती है, तो किसानों का काम काफी आसान हो जाएगा। किसान पहचान पत्र के माध्यम से सभी काम करने वाले लोगो का डाटा आसानी सुरक्षित रखा जा सकेगा।

पीएम किसान सम्मान निधि के तहत सरकार द्वारा अब तक दी गयी धनराशि

देश भर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए किसानो को होने वाले नुकसान की भरपाई के रूप में क़िस्त की राशि बैंक खाते में पहुचायी जा रही है। अब तक केंद्र सरकार द्वारा 5,125 करोड़ रूपये की रकम अप्रैल से जुलाई के दौरान 4 महीनो की क़िस्त के तोर पर ट्रांसफर की जा चुकी है। दिनांक 26 मार्च को देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी की ओर से लॉक डाउन के चलते प्रभावित देश के गरीबो की मदद के लिए 1.7 लाभ करोड़ रूपये के पैकेज का ऐलान किया।

यह सहायता राशि निर्मला सीतारमण द्वारा जारी किये गए राहत पैकेज के रूप में दी जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के तहत अप्रैल के पहले हफ्ते में देश के कुल 9 करोड़ लाभार्थी किसानो के बैंक अकाउंट में 2000 रूपये की धनराशि ट्रांसफर करने के ऐलान किया है। देश में कोरोना वायरस जूझ रहे किसानो को राहत पैकेज दिया गया है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना अपडेट

केंद्र सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत एक नया अपडेट जारी किया है की देश के पात्र लाभार्थी किसानों को इस योजना के तहत अपना किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान किया जाएगा। किसान सम्मान के पात्र लाभार्थियों को अपने किसान सम्मान निधि खाते वाले बैंक में जाकर किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन फॉर्म भरना होगा।  बैंकों को किसानों से आवेदन प्राप्त करने के 14 दिनों के भीतर केसीसी जारी करने का निर्देश दिया गया है।

खाते में आए पैसों की जांच कैसे करें

पीएम किसान निधि योजना के सभी लाभार्थी, जो खाते में आई धनराशि की जांच करना चाहते हैं उन्हें जायदा चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, क्युकि केंद्र सरकार ने सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों को यह आदेश दिया है कि वह सभी किसानों को उनके खाते में पीएम किसान योजना के अंतर्गत धनराशि वितरित की गयी धनराशि की सुचना उनके मोबाइल नंबर पर एसएमएस के द्वारा दें। यदि आपका मोबाइल नंबर आपके खाते से लिंक है तो खाते में पैसे जमा होते ही आपके पास  आटोमेटिक एसएमएस आ जाएगा | यदि किसी स्थिति में आपको एसएमएस नहीं आता तो आप संबंधित बैंक में जाकर अपने खाते की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन फॉर्म

पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के अंतर्गत आवेदन करने वाले लाभार्थियों के लिए केंद्र सरकार द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड योजना की सुविधा दिए जाने का एलान हाल ही में 24 फरवरी 2020 को किया गया था। इस योजना के अंतर्गत जो लाभार्थी किसान क्रेडिट कार्ड लेना चाहते हैं, वह बड़ी ही आसानी से किसान क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं |

किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले लाभार्थियों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन की प्रक्रिया बेहद ही सरल रखा गया है, और उनका वेरिफिकेशन का काम भी बहुत आसानी से हो जाएगा। इस योजना के अंतर्गत प्राप्त क्रेडिट कार्ड से लाभार्थी 1.6 लाख रुपए लिमिट के किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधाएं आसानी से प्राप्त कर सकेगा।

किसान सम्मान निधि योजना मोबाइल ऐप

केंद्र सरकार द्वारा पीएम किसान मोबाइल ऐप को शुरू किया गया है। इस ऐप के माध्यम से देश के किसानो को योजना के तहत आवेदन करने, आवेदन की स्थिति देखने आदि सुविधा प्रदान करने के लिए लॉन्च किया गया है। यदि किसी कारणवश आपके पास पैसा नहीं पहुंच पा रहा है, तो ऐसे में पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम की ऐप से जानकारी ले सकते हैं।

गुगल प्ले स्टोर के माध्यम से इस ऐप को डाउनलोड किया जा सकता है। इस दौरान यही भी ध्यान रखना होता है कि ये ऐप फर्जी न हो और अधिकारिक पुष्टि वाले ऐप ही डाउनलोड करें। जिस पर PMKISAN gol दिखेंगे, उसे ही डाउनलोड करें, जिसमे अब तक इस ऐप को 10 लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया जा चूका है। देश के लोग इस ऍप के माध्यम से अपने आवेदन की स्थिति की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021 के लाभ

  • देश के इच्छुक लाभार्थी जो इस Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana List 2021 में अपना नाम देखना चाहते हैं, उन्हें कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं है। अब किसान ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से आसानी से सूची में अपना नाम देख सकते हैं।
  • जिन किसानों का नाम इस सूची में दिखाई देगा उन्हें 3 बराबर किस्तों में 6000 रुपये की सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से किसानो को बेहतर आजीविका प्रदान करने और आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लक्ष्य रखे गए है ।
  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना के पोर्टल पर नई सूची के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लाभार्थियों के नाम जारी किए गए हैं।
  • अगले 5 वर्षों के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों की सूची में शामिल होने वाले लाभार्थियों को 6000 दिए जाएंगे।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना स्थानांतरित धनराशि आंकड़े

पिछले डेढ़ साल में 75 हजार करोड़ रुपये सीधे पीएम किसान योजना के जरिए किसानों के बैंक खाते में डाले गए हैं।

वर्षस्थानांतरित धनराशि आंकड़े  
वित्तीय वर्ष 2018-19दिसंबर – मार्च : 4,50,19,221
वित्तीय वर्ष 2019-20अप्रैल -जुलाई : 7,35,01,289
 अगस्त -नवंबर :8,24,76,582
 दिसंबर -मार्च :8,51,92,967
वित्तीय वर्ष 2020-21अप्रैल -जुलाई :8,52,98,409

यह भी पढ़े किसान सम्मान निधि 7वी क़िस्त की राशि के न आने की स्थिति में यहां क्लिक करे

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2021

इस योजना के तहत, केंद्र सरकार देश के छोटे और सीमांत किसानों को सालाना 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। सरकार द्वारा किसानों को तीन समान किस्तों में 6000 रुपये प्रदान किए जायेंगे। किसान सम्मान योजना के लिए वर्ष 2019 के बजट में 75,000 करोड़ रुपये रखे गए थे, लेकिन किसानों की कम संख्या में सत्यापन हुआ। यही कारण है की इस वर्ष बजट 2021 में, कृषि मंत्रालय ने इस योजना के तहत केवल 60,000 करोड़ रुपये का बजट मांगा है। किसान सम्मान निधि योजना 2019 में 12 करोड़ लघु और सीमांत किसानों को शामिल किया जाएगा। लगभग 9.5 करोड़ किसानों ने इस योजना के तहत पंजीकरण कराया है, जिसमें से लगभग 7.5 करोड़ किसानों को आधार के माध्यम से सत्यापित किया गया है।

70 लाख किसानों के खाते में पायी गयी गड़बड़ी

किसानों के खाते में गड़बड़ी होने की वजह से इंस्टॉलमेंट की राशि उनके खाते में नहीं पहुँच पायी है। अगर आप भी उन किसानों में से एक हैं, तो आप अपनी गलती को जल्द-से-जल्द सुधर लें। इसके लिए आपको किसी भी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आपको बस अपने मोबाइल के माध्यम से पीएम किसान ऐप को डाउनलोड करने की आवश्यकता है। आप आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से भी अपनी गलती का सुधार कर सकते है। आप नीचे दिए गए चरणों का पालन करके अपनी गलती को ठीक कर सकते हैं-

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “फार्मर कार्नर” के सेक्शन से “आधार डीटेल्स” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करके “सबमिट” के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके खाते में जो भी गड़बड़ी है आप उसे ठीक कर सकते हैं।
  • यदि आपके नाम में गड़बड़ी है तो आप उसे ठीक कर सकते हैं और यदि कोई अन्य गड़बड़ी है तो आपको लेखपाल से या फिर कृष विभाग से संपर्क करना होगा।

यह भी पढ़े किसान सम्मान निधि 7वी क़िस्त लिस्ट में नाम न आने की स्थिति में यहां क्लिक करे

1 साल के लिए ही वैलिड है लिस्ट

पीएम किसान सम्मान निधि की सूची केवल 1 वर्ष के लिए वैध है। फिर सूची को अद्यतन किया जाता है, क्योंकि कई बार किसानों ने अपनी जमीन बेच दी होती  है या कुछ और जमीन खरीद ली होती है और स्थिति के अनुसार, योग्यता भिन्न होती है। कोई भी व्यक्ति योजना का दुरुपयोग न करे इसके  लिए सरकार हर साल इस सूची को अपडेट करती है। ताकि इस योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को मिल सके जो इस योजना के पात्र हैं और वे सभी लोग जो इस योजना की पात्रता को अब पूरा नहीं करते, वे इस योजना का दुरुपयोग न कर सकें।

किसान सम्मान निधि योजना के पात्रता मानदंड

इस योजना के अंतर्गत सरकारी नौकरियां करने वाले जनप्रतिनिधि, इनकम टैक्स के दायरे में आने वाले लोग पात्र नहीं होंगे, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अपनी खेती योग्य जमीन पर खेती भले नहीं करते हो लेकिन उन्हें भी इस स्कीम का लाभ मिल सकता है।

  • चतुर्थ श्रेणी या कर्मचारी या मल्टी टास्किंग स्टाफ के तौर पर जुड़े लोग इस योजना के अंतर्गत खुद को रजिस्टर करा सकते हैं।
  • यदि किसी ने खेती योग्य भूमि का इस्तेमाल किसी और चीज में किया तो उसे इस योजना के पात्र नहीं माना जायेगा।
  • जो किसान अपनी खेती योग्य भूमि पर खेती ना करता हो और उसे बंजर छोड़ दिया जाता है, तब भी वह इस योजना के पात्र नहीं होगा। हालांकि यह स्कीम खेती करने वाले भूमि या गांव में हो या शहर में हो दोनों को मिलेगी दोनों को इसका फायदा होगा।
  • यदि किसी लाभार्थी किसान की मृत्यु हो जाती है, तो उसकी जमीन परिवार वालों के नाम पर ट्रांसफर कर दी जाती है, तो उन्हें यह लाभ मिल सकेगा अगर वह जमीन किसी और को बेच दी जाती है तो संबंधित व्यक्ति को ही स्कीम का लाभ मिलेगा जिसके नाम पर जमीन होगी।

पीएम किसान योजना के तहत अपात्र श्रेणियाँ

  • अंतिम मूल्यांकन वर्ष में आयकर का भुगतान करने वाले सभी व्यक्ति
  • केंद्र / राज्य सरकार के मंत्रालयों / कार्यालयों / विभागों और इसकी फील्ड इकाइयों, केंद्र या राज्य सार्वजनिक उपक्रमों और संलग्न कार्यालयों / स्वायत्त संस्थानों और सरकार के स्थानीय निकायों के नियमित कर्मचारियों के सभी सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी।
  • डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट और आर्किटेक्ट जैसे पेशेवर पंजीकृत हैं और पेशेवर निकायों का अभ्यास करते हैं।
  • पूर्व और वर्तमान मंत्रियों / राज्य मंत्रियों और लोक सभा / राज्यसभा / राज्य विधान सभाओं / राज्य विधान परिषदों के पूर्व / वर्तमान सदस्य, नगर निगमों के पूर्व और वर्तमान महापौर, जिला पंचायतों के पूर्व और वर्तमान महापौर।
  • संवैधानिक पदों के पूर्व और वर्तमान धारक
  • सभी सुपरनेचुरल / रिटायर्ड पेंशनर्स जिनकी मासिक पेंशन रु। 10,000 / – अधिक है

पीएम किसान सम्मान निधि योजना रिजेक्टेड लिस्ट

देश के किसान जिनके आवेदन गलत हैं और आवेदन पत्र में गलती के कारण उनके आवेदन को अस्वीकार कर दिया गया है। इन अस्वीकृत आवेदनों की सूची ऑनलाइन जारी की गई है। अगर ऐसे लोग जिनका नाम लाभार्थी सूची में नहीं आया और वे अपना नाम देखना चाहते हैं, तो वे अस्वीकृत सूची की जांच कर सकते हैं। जिन किसानों का नाम इस निलंबित सूची में आएगा, उन्हें इस योजना के तहत फिर से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। उसके बाद आपको लाभार्थी सूची के तहत नाम की जांच करनी होगी। तभी वह इस योजना का लाभ उठा सकेगा।

कुछ प्रमुख लाभार्थी लाभ

  • इस योजना के तहत छोटे और सीमांत किसान परिवारों को 6 हेक्टेयर / – प्रति वर्ष कृषि भूमि पर सहायता दी जाएगी। 
  • सभी लाभार्थी किसानो को  01.12.2018 से 31.03.2019 की अवधि के लिए पहली क़िस्त उनके बैंक खाते में ट्रांसफर की जा चुकी है। 
  • अभी सातवीं क़िस्त की राशि को 01 दिसंबर 2020 में जारी किया जा चूका है, सातवीं क़िस्त पेमेंट स्टेटस जांचने के लिए यहां क्लिक करे

किसान सम्मान निधि किसान लाभार्थी दिशानिर्देश

एसएमएफ के भूमिधारक किसान परिवारों को पति, पत्नी और नाबालिग बच्चो के रूप में परिभाषित किया गया है जो सामूहिक रूप से 2 हेक्टेयर तक की सामूहिक खेती के मालिक हैं।

  • सभी संस्थागत भूमि धारक, निम्न श्रेणियों में से एक या एक से अधिक है उनकी श्रेणियां अवैध नहीं हैं। 
  • पूर्व और वर्तमान मंत्रियों / राज्य मंत्रियों और लोक सभा / राज्यसभा / राज्य विधान सभाओं / राज्य विधान परिषदों के पूर्व / वर्तमान सदस्य, नगर निगमों के पूर्व महापौर जिला पंचायत के पूर्व और वर्तमान अध्यक्ष किसान 
  • केंद्र / राज्य सरकार के मंत्रालयों / कार्यालयों / विभागों और इसकी इकाइयों के सभी सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी केंद्रीय या राज्य सार्वजनिक उप्कर्मो और संलग्नो कार्यालयों के नियमित कर्मचारी (चतुर्थ श्रेणी / समूह डी कर्मचारी)
  • पेशेवर डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट, और आर्किटेक्ट और अन्य निकायों के साथ पंजीकृत किसान भाई

किसान सम्मान आवेदन रिजेक्ट होने के कारण

हम जानते है कि इस योजना के अंतर्गत अब तक केंद्र सरकार द्वारा 8 करोड़ से भी अधिक किसानो को लाभ पहुंचाया गया है। केंद्र सरकार का उद्देश्य यह है कि देश के हर गरीब किसानो को इस योजना का लाभ मिल सके। जिन किसानो के नाम इस योजना के अनुसार रिजेक्ट कर दिए गए है, वह इस योजना का लाभ दोबारा उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और सरकार द्वारा किसानो को 5 साल तक दिया जाने वाला 6000 रूपये का लाभ उठा सकते है। इस योजना के अंतर्गत किसानो के द्वारा किये गए आवेदन रिजेक्ट होने के कई कारण निम्न हैं-

  • आवेदक किसान की आयु 18 वर्ष से कम होना।
  • खसरा खतौनी में कुछ गलत जानकारी देने के कारण।
  • किसान के द्वारा बैंक अकाउंट नंबर गलत दर्ज करना या आईएफएससी कोड गलत दर्ज कर देना।
  • आवेदन फॉर्म भरते समय किसी तरह की त्रुटि करना।
  • किसान के खाते अवैध या बंद होना।
  • आपने बैंक का नाम तो दर्ज कर दिया है लेकिन आपने आईएफएससी कोड किसी और बैंक का दर्ज कर दिया हैं।

यह भी पढ़े किसान सम्मान निधि 7वी क़िस्त लिस्ट में नाम न आने की स्थिति में यहां क्लिक करे

किसान सम्मान निधि पंजीकरण की प्रकिया

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “फार्मर कार्नर” के सेक्शन से “न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण दर्ज करके “सबमिट” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गयी व्यक्तिगत जानकारी का विवरण दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • सफल पंजीकरण के बाद आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल ले और भविष्य के लिए सुरक्षित कर ले।

किसान सम्मान पंजीकरण जानकारी को अपडेट करें

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा स्वयं पंजीकरण के अपडेटन की प्रकिया को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जाएगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “फार्मर कार्नर” के विकल्प पर क्लिक करके ड्रॉप-डाउन सूची में  “Updation of Self Registration” के टैब पर क्लिक करना होगा,
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, इस पेज पर आपको आधार कार्ड और अन्य विवरण दर्ज करके चित्र में दिए गए कैप्चा कोड को भर देना है। 

सभी जानकारी भरने के बाद, आप खोज बटन पर क्लिक करें। इस तरह, लाभार्थी स्व-पंजीकरण को अद्यतन कर और जानकारी को अपडेट सकते हैं।

आधार विफलता रिकार्ड्स को सम्पादित कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “फार्मर कार्नर” के सेक्शन से “Edit Aadhaar Failure Records” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- आधार कार्ड नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करके “सर्च” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गयी व्यक्तिगत जानकारी का विवरण दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आप आधार विफलता रिकार्ड्स को सम्पादित कर सकते हैं।

किसान सम्मान निधि योजना रिकवरी

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 11 करोड़ किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। लेकिन उनमें से कई किसान ऐसे हैं जो इस योजना के लिए पात्र नहीं हैं, परन्तु फिर भी इस योजना का लाभ ले रहे हैं। लाभ की राशि उन सभी किसानों से सरकार द्वारा वापस ली जाएगी जो किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र नहीं हैं। सरकार द्वारा वसूली की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना रिकवरी सूची आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की गई है। जिन किसानों को अपात्र होने की स्थिति में भी योजना के तहत लाभ हुआ है, उन्हें किस्त की राशि लौटानी होगी।

किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “फार्मर कार्नर” के सेक्शन से ” केसीसी फॉर्म डाउनलोड करे” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको “go to pmkisan” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। आप फिर से पहली वाली वेबसाइट पर आ जायेंगे।
किसान सम्मान निधि योजना
  • अब आपको सी पेज पर PM Kisan Beneficiaries With Kisan Credit card के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने क्रेडिट कार्ड के आवेदन फॉर्म की पीडीएफ खुल जाएगी।
  • इस पीडीएफ को आप डाउनलोड कर सकते हैं
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी का विवरण दर्ज करके अपने नजदीकी बैंक में जमा कर देना है।
  • आपके फॉर्म का सत्यापन करने के बाद आपको क्रेडिट कार्ड प्रदान कर दिया जायेगा।

PM Kisan Samman Nidhi Refund Process

किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पैसे रिफंड करने के लिए आप नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “Quick Payment” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
PM Kisan Samman Nidhi Refund
  • इस पेज पर आपको मिनिस्ट्री (एग्रीकल्चर) और परपस (PM Kisan Samman Nidhi Refund) का चयन करना होगा।
Kisan Samman Nidhi Refund
  • चुनाव करने के बाद नेक्स्ट का बटन दबाये और एक नया पेज आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जायेगा।
  • अब जितने पैसे आप वापिस करना चाहते है वो अमाउंट भरें और नेक्स्ट का बटन दबाये।
  • एक बार जब आप बैंक पर क्लिक करते हैं, तो देखें कि आपके द्वारा दर्ज की गई सभी जानकारी सही है या नहीं।  यदि जानकारी ठीक है तो पहले नेक्स्ट का बटन दबाये  कन्फर्म का।
  • अब अपना बैंक तथा जिस बैंक से सरकार द्वारा किस्त भेजी गई थी उसका चयन करें और अपने पेमेंट मेथड का चयन करें और दिए गए कॅप्टचा कोड धयानपूर्वक भरे और पे का बटन दबाए।
  • अंत में अपना क्रेडिट कार्ड नंबर, सीवीवी नंबर आदि जानकारी भरे और पे नाउ बटन पर क्लिक करे और आपके रिफंड की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

मोबाइल ऐप के माध्यम से किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट चेक करे

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट के अनुसार देश के किसानो को आसान तरीके से लाभ पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार एक मोबाइल ऐप शुरू किया है। इस मोबाइल ऐप के माध्यम से देश के लाभार्थी अब योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाये बिना ही इस योजना के बारे में अधिकांश जानकारी प्राप्त कर सकते है। लाभार्थी नीचे दिए गए चरणों के माध्यम से सूची और भुगतान की स्थिति की जांच कर सकते हैं। नीचे दिए गए चरणों का पालन करके मोबाइल ऍप को डाउनलोड कर सकते है-

  • सबसे पहले आपको अपने एंड्राइड मोबाइल केगूगल प्ले स्टोर में जाना है। इसके बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर का होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको “सर्च बार” में “PMKISAN GoI” दर्ज कर देना है। इसके बाद आपके सामने PMKISAN GoI ऐप प्रदर्शित हो जाएगी।
  • अब आपको PMKISAN GoI ऐप पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने “इनस्टॉल” का बटन प्रदर्शित हो जायेगा। अब आपको इनस्टॉल के बटन पर क्लिक कर देना है। अब आपके मोबाइल में ऐप डाउनलोड हो जायेगा।
  • बिहार वोटर लिस्ट मोबाइल ऐप डाउनलोड होने के बाद आप सफलतापूर्वक लॉगिन कर सकते हैं।
  • इस ऐप के होम पेज पर आपको सभी प्रकार की सेवाएं जैसे- Check Beneficiary Status, Edit Aadhaar Details, Self Registered Farmer Status, New Farmer registration, About the scheme, PM -Kisan Helpline आदि प्रदर्शित हो जाएँगी।
  • इसके बाद आप इनमे किसी की भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

pmkisan.gov.in Portal- Kisan Samman Nidhi Website

केंद्र सरकार किसान सम्मान निधि वेबसाइट पर, देश के किसानों को कई प्रकार की सुविधाएं प्रदान कर रही है। इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से, देश के लोग योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और इस pmkisan.gov.in पोर्टल पर, देश के किसान किसान कॉर्नर विकल्प पर जाकर खुद को पंजीकृत कर सकते हैं और अपने आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं, लाभार्थी सूची में अपना नाम खोज सकते हैं और पीएम किसान मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। इस ऑनलाइन पोर्टल पर, देश के किसान इस योजना के तहत बहुत आसानी से आवेदन कर सकते हैं और योजना का लाभ ले सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना FTO Generated क्या होता है?

FTO Generated का पूरा नाम फंड ट्रांसफर ऑर्डर होता है और इसका मतलब है कि भारत सरकार द्वारा आपके लिए भेजी जाने वाली धनराशि तैयार है पर अभी तक आपके बैंक खाते में नहीं भेजी गयी  है। यदि आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाते हैं और प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत आपके द्वारा किए गए आवेदन की स्थिति देखने के लिए एप्लिकेशन स्थिति विकल्प पर क्लिक करते हैं, और आपके पास एक अधिसूचना है और इस अधिसूचना में एफटीओ लिखा होता है। तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आपकी फ़ाइल विभाग द्वारा पारित कर दी गई है और आपके बैंक खाते में स्थानांतरित होने वाला धन जल्द ही हस्तांतरित होने वाला है।

किसान रथ मोबाइल ऐप

हम जानते है कि पूरे देश के कोरोना वायरस के कारण कई परेशानियां हो रही हैं, जिसकी वजह से केंद्र सरकार द्वारा पूरे भारत देश में लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है। इस लॉक डाउन के कारण देश के किसान अपनी फसलों को बेच नहीं पा रहे है। इस समस्या को दूर करने के लिए देश के कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी के द्वारा देश के किसानो को लाभ पहुंचने के लिए किसान रथ मोबाइल ऐप लॉन्च किया है।

इस किसान रथ मोबाइल ऐप के माध्यम से देश के किसान अपनी फसल को ऑनलाइन बेच सकते है और व्यापारी भी इस मोबाइल ऍप के ज़रिये फसलों का ब्यौरा देख सकते है। अब देश के किसानो को फसलों की कटाई से लेकर उसे मंडी तक पहुंचाने में किसी भी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस मोबाइल ऐप के माध्यम से देश में किसानों की फसलों का क्रय-विक्रय बंद नहीं हो पायेगा।

किसान रथ मोबाइल ऐप मोबाइल में डाउनलोड कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको अपने एंड्राइड मोबाइल के “गूगल प्ले स्टोर” में जाना है। इसके बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर का होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको “सर्च बार” में Kisan Rath App” दर्ज कर देना है। इसके बाद आपके सामने Kisan Rath App प्रदर्शित हो जाएगी।
किसान सम्मान निधि योजना
  • अब आपको Kisan Rath App ऐप पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने “इनस्टॉल” का बटन प्रदर्शित हो जायेगा। अब आपको इनस्टॉल के बटन पर क्लिक कर देना है। अब आपके मोबाइल में ऐप डाउनलोड हो जायेगा।
  • बिहार वोटर लिस्ट मोबाइल ऐप डाउनलोड होने के बाद आप सफलतापूर्वक लॉगिन कर सकते हैं।

पीएम किसान पोर्टल (pmkisan.gov.in) लॉगिन प्रकिया

यदि कोई भी लाभार्थी पीएम किसान पोर्टल के अंतर्गत आवेदन करना चाहता है, तो उसको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
किसान सम्मान निधि योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको आपको login के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- User ID और Paasword, Image Code आदि दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आप पीएम किसान स्कीम की वेबसाइट के अंतर्गत लोग इन कर सकते हैं।

स्व-पंजीकरण का अपडेशन करने की प्रक्रिया

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में स्व-पंजीकरण  करा सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको farmer corner ऑप्शन में से “Updation of Self Registration” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
Updation of Farmer Registration
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म मिलेगा। फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे आधार नंबर, कैप्चा कोड आदि भरें और सर्च का बटन दबाये।
  • अब आप अपने स्व-पंजीकरण को अपडेट कर सकते है।

हेल्प डेस्क के माध्यम से गलती में सुधार करने की प्रक्रिया

कई बार ऐसा देखा गया है की किसान के द्वारा दी गयी जानकारी के गलत पाए जाने पर किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानो को दी जाने वाली राशि को रोक लिया जाता है। ऐसे में किसान के बैंक खाट में राशि को ट्रांसफर नहीं किया जाता है। अगर आप भी इस तरह की किसी समस्या का सामना कर रहे हैं तब हेल्प डेस्क के जरिए सुधार कर सकते हैं। हेल्प डेस्क के माध्यम से अपनी द्वारा दर्ज जानकरी में सुधर की प्रकिया नीचे दी गयी है।

  • सबसे पहले आपको Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “हेल्प डेस्क” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
Kisan Samman Query-Status
  • अब आप अपने आधार नंबर, अकाउंट नंबर तथा मोबाइल नंबर  में से किसी एक माध्यम का चयन कर सकते है।
  • अब चुने हुए विकल्प के अनुसार अपनी आईडी डाले और गेट डिटेल का बटन दबाये।
  • आपका फॉर्म आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा इस फॉर्म में मांगी गयी जानकारी भरें और सबमिट के बटन पर क्लिक करें।

क्वेरी स्टेटस देखने की प्रक्रिया

आप अपने द्वारा दर्ज क्वेरी की स्थिति की जाँच भी कर सकते है इसके लिए दिए गए आसान से चरणों का पालन करे।

  • सबसे पहले आपको Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “हेल्प डेस्क” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर निचे दिए हुए Know Query Status का बटन दबाएं।
  • अब आप अपने आधार नंबर, अकाउंट नंबर तथा मोबाइल नंबर  में से किसी एक माध्यम का चयन कर सकते है।
  • अब चुने हुए विकल्प के अनुसार अपनी आईडी डाले और गेट डिटेल का बटन दबाये। आपका ग्रीवेंस स्टेटस आपकी  पर होगा।

Pending for approval at state district level सही करने की प्रक्रिया

बहुत से ऐसे किसान भाई है जिन्हे जानकारी एक गमती होने के कारण किसान सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इनसे से अधिकतर किसान भाई आवेदन की स्थिति चेक करते समय Pending for approval at state district level दिखाई देने की शिकायत कर रहे हैं, इन कारणो से किसानो को योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। आप यहां नीचे दिए गए चरणों के द्वारा इस समस्या का समाधान कर सकते हैं।

Kisan Samman Farmer Registration
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म मिलेगा। फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे आधार नंबर, कैप्चा कोड आदि भरें और सर्च का बटन दबाये।
  • अब आपको आवेदन की स्थिति pending for approval at state district level दिखाई देगी। इस पेज का प्रिंटआउट ले लें।
  • अब अपने तहसील या ब्लाक के नोडल अधिकारी के पास अपने सभी दस्तावेज जैसे की फोटो, बैंक पासबुक, आधार कार्ड आवेदन की स्थिति का प्रिंट आदि लेकर जाएं।
  • नोडल अधिकारी के पास अपने सभी दस्तावेज जमा करवाएं।
  • दस्तावेजों के सत्यापन के बाद आपके आवेदन प्रक्रिया आरंभ की जाएगी और इसके 30 से 45 दिन के अंदर आपको योजना का लाभ प्राप्त होगा।

Note – बताते चले की अगर आप ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से Pending for approval at state district level समस्या को हल नहीं कर पा रहे हैं तब आपको अपने तहसील में जाकर ऑफलाइन मोड में इस समस्या का समाधान करना होगा।

किसान सम्मान निधि हटाए गए 2 करोड़ से अधिक किसानों के नाम

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत मोदी सरकार द्वारा किसानों के खाते में 7वी किस्त भेजी जा रही है लेकिन साथ ही केंद्र सरकार फर्जी तरीकों से योजना का लाभ उठाने वाले किसानों का नाम इस लिस्ट से हटा भी रही है। हर साल सरकार द्वारा किसानों को 6000 रूपए की आर्थिक सहायता योजना के अंतर्गत की जाती है जिसमें 2000 रूपए की तीन किस्तें हर 4 महीने बाद भेजी जाती हैं। कहा जाता है कि इस योजना में लाभ लेने वाले किसानों की संख्या पहले 11 करोड़ के करीब थी जो कि अब इस योजना में सख्ती के चलते किसानों के नाम हटाने के बाद 9 करोड़ 97 लाख रुपए के आसपास रह गई है।

सरकार ने जब से इस योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थियों के लिए सख्ती की  है तब से राज्यों के कई किसान, जो फर्जी तरीके से योजना का लाभ ले रहे थे उन्होंने स्वयं ही अपना नाम योजना से वापिस लिया है। एक जानकारी के मुताबिक ऐसे सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र, एमपी और यूपी में सामने आए हैं, जिन्होंने अपना नाम वापिस ले लिया है। इसके साथ ही सरकार ने बहुत से किसानों का नाम उनके गलत डाटा के कारण पोर्टल से हटा दिया है। 

तो यदि आपको भी यह लगता है कि आप इस योजना के लिए सही उम्मीदवार है लेकिन अभी भी आपकी 7वी किस्त का पैसा नहीं आया है तो आप एक बार पोर्टल पर जाकर अपने पात्रता चेक कर ले और अपने द्वारा भरा गया डाटा जरूर चेक करें। यदि आपकी भरी गई जानकारी में कोई गड़बड़ी है तो उसे तुरंत ही ठीक करें अन्यथा आपका नाम भी लिस्ट में से कट सकता है।

अब तक आयी किसान सम्मान की किस्ते

किसान योजना पहली किस्त फरवरी 2019 में जारी की गई थी
किसान योजना दूसरी किस्त 2 अप्रैल 2019 को जारी की गई थी
किसान योजना तीसरी किस्तअगस्त 2019 में जारी की गई थी
किसान योजना 4 वीं किस्तजनवरी 2020 में जारी की गई थी
किसान योजना 5 वीं किस्त1 अप्रैल, 2020 को जारी की गई थी
किसान योजना 6 वीं किस्त1 अगस्त, 2020 को जारी की गई थी
किसान योजना 7 वीं किस्त1 दिसंबर 2020 से पैसा आना शुरू हुआ

Farmers Corner  क्या है?

पीएम-किसान वेबसाइट पर Farmers Corner  अनुभाग में लाभार्थियों के लिए निम्नलिखित सुविधाएं हैं;

  • नया किसान पंजीकरण
  • आधार विफलता रिकॉर्ड्स  संपादन 
  • लाभार्थी की स्थिति
  • स्व पंजीकृत / सीएससी किसानों की स्थिति
  • लाभार्थी सूची
  • स्व पंजीकरण का अद्यतन
  • PMKISAN मोबाइल ऐप डाउनलोड 
  • किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) फॉर्म डाउनलोड

RFT Sighned का क्या अर्थ है?

जब आप पीएम किसान सम्मान निधि की वेबसाइट पर जाते हैं और अपनी भुगतान स्थिति की जांच करते हैं, तो कभी-कभी आपको राज्य द्वारा पहली, दूसरी, तीसरी, चौथी या पांचवीं किस्त के लिए हस्ताक्षर किए गए आरएफटी दिखाई देंगे। यहाँ RFT के लिए फुल फॉर्म रिक्वेस्ट फॉर फण्ड फंड ट्रांसफर स्टेट अपलोड है। जिसका अर्थ है कि “लाभार्थी का डेटा राज्य सरकार द्वारा जांचा गया है, जो कि सही पाया गया है”। जिसके बाद वह सरकार से लाभार्थी के खाते में पैसा भेजने का अनुरोध करता है।

किसानों को लाभ पहुँचाने के तरीके

  • प्रधानमंत्री किसान निधि योजना के तहत, लाभार्थी किसान को हर साल 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • राशि 3 किस्तों में प्रदान की जाएगी, जो 4 महीने के अंतराल पर उपलब्ध होगी।
  • पहली किस्त अप्रैल और जुलाई के बीच दी जाएगी, दूसरी किस्त अगस्त और नवंबर के बीच दी जाएगी और तीसरी किस्त दिसंबर और मार्च के बीच दी जाएगी।
  • आधार लिंक का कार्यान्वयन इलेक्ट्रॉनिक डेटा के माध्यम से किया जाएगा, जिसके तहत उन सभी परिवार के सदस्यों को जानकारी उपलब्ध होगी जो भूमि रिकॉर्ड के तहत आते हैं।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आधार नंबर देना अनिवार्य है। इस योजना का लाभ आधार नंबर के बिना प्रदान नहीं किया जाएगा।
  • असम, मेघालय और जम्मू और कश्मीर के लिए आधार संख्या अनिवार्य नहीं है। क्योंकि वहां कई नागरिकों का आधार कार्ड नहीं है। इन तीनों राज्यों के नागरिकों को 31 मार्च 2021 तक आधार संख्या प्रदान करना अनिवार्य नहीं है।
  • लाभार्थी किसानों की सूची सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा प्रमाणित और अपलोड की जाएगी और इस सूची के माध्यम से धनराशि को इलेक्ट्रॉनिक रूप से लाभार्थी के खाता संख्या और IFSC कोड के आधार पर लाभार्थी के खाते में स्थानांतरित किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत वित्तीय सहायता सीधे लाभ हस्तांतरण के माध्यम से लाभार्थियों के खाते में भेज दी जाएगी।
  • सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए यह सुनिश्चित करना अनिवार्य है कि सभी लाभार्थियों ने किसान सम्मान निधि पोर्टल पर अपना विवरण दर्ज किया हो।
  • केंद्र शासित प्रदेश और राज्य सरकार द्वारा यह सुनिश्चित करना भी अनिवार्य है कि किसानों द्वारा अपलोड किया गया विवरण सही है या नहीं।
  • योजना के लाभार्थियों के फंड को केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार को हस्तांतरित किया जाएगा।
  • राज्य सरकारों द्वारा लाभार्थियों को जल्द से जल्द धनराशि पारित की जानी है।

किसान सम्मान निधि योजना का कार्यान्वयन

  • किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों की सूची सभी राज्यों सरकार द्वारा तैयार की जाएगी।
  • इस सूची के तहत लाभार्थी का नाम, आयु, लिंग, श्रेणी, आधार संख्या, बैंक खाता संख्या और मोबाइल नंबर होगा।
  • इस योजना के तहत, पात्र किसान लाभार्थी की पहचान करने की जिम्मेदारी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश के पास होगी।
  • उन सभी राज्यों (असम, मेघालय, जम्मू और कश्मीर) जिनके कई नागरिकों को अभी तक आधार नंबर जारी नहीं किया गया है, उन्हें पहचान सत्यापन के लिए वैकल्पिक दस्तावेजों जैसे आईडी कार्ड, नरेगा जॉब कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि का विवरण मिलेगा। इन राज्यों के नागरिक जिनके पास आधार संख्या है, उनसे लिया जाएगा।
  • यह सुनिश्चित करना राज्य और केंद्र सरकार की जिम्मेदारी होगी कि किसी भी लाभार्थी को भुगतान प्राप्त करने में कोई कठिनाई न हो।
  • यदि लाभार्थी द्वारा गलत बैंक विवरण या अपूर्ण बैंक विवरण प्रदान किए गए हैं, तो मामले को भी जल्द से जल्द हल किया जाएगा।
  • लाभार्थियों की पहचान करने के लिए राज्यों की मौजूदा भूमि स्वामित्व प्रणाली का उपयोग किया जाएगा।
  • इसके लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि भूमि का रिकॉर्ड स्पष्ट और अद्यतन हो।
  • सरकार भूमि के रिकॉर्ड को भी डिजिटल करेगी और उन्हें आधार नंबर से लिंक करेगी।
  • सभी पात्र लाभार्थियों की सूची जिला स्तर पर उपलब्ध कराई जाएगी।
  • वे सभी किसान परिवार जो पात्र हैं, लेकिन उन्हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जा रहा है, उन्हें उनके मामले का प्रतिनिधित्व करने का अवसर प्रदान किया जाएगा।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट ऑनलाइन कैसे देखे?

पीएम किसान सम्मान निधि लाभार्थी सूची देखने की सम्पूर्ण प्रक्रिया नीचे दी गयी है।

  • सबसे पहले आपको कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा
किसान सम्मान निधि योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Farmers Corner में ” Beneficiary List के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • अब इस पेज पर आपको अपने स्टेट ,डिस्ट्रिक्ट, सब  डिस्ट्रिक्ट ब्लॉक, विलेज आदि का चयन करना होगा।
  • चयन करने के बाद Get Report का बटन दबाये और एक नया पेज आपकी स्क्रीन पर खुल जायेगा। 
  • इस पेज पर आपकी beneficiary List खुल जाएगी जिसमे आप अपना नाम देख सकते है।

Kisan Samman Nidhi Beneficiary Status or Payment Status Online

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा किसान सम्मान निधि योजना में अपना Beneficiary Status देख सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Farmers Corner में ” Beneficiary status ” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको आधार नंबर ,मोबाइल नंबर , अकाउंट नंबर में से किसी एक विकल्प का चुनाव करना होगा जिसकी सहायता से आप अपना स्टेटस देखना चाहते है। 
  •  चुनाव के अनुसार जानकारी भरें और Go Data का विकल्प दबाये।  आपका बेनिफिशरी स्टेटस आपके सामने आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जायेगा।

PM Kisan Self Registered/CSC Farmer Online Check

  • सबसे पहले आपको कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Farmers Corner में ” Status of  Self Registered/CSC Farmers ” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर अपना आधार नंबर डालें और दिया गया कॅप्टचा कोड ध्यानपूर्वक भरें। जानकारी भरने के बाद सर्च का बटन दबाएं। 
  • सर्च पर क्लिक करते ही नीचे आपके लिए  पीएम किसान  सम्मान निधि योजना की वर्तमान स्थिति खुल जाएगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट – State wise Direct Link

State namesLink to Check (Online Portal)
Andaman – Nicobarऑनलाइन चेक करें
Andra Pradeshऑनलाइन चेक करें
Arunachal Pradeshऑनलाइन चेक करें
Assamऑनलाइन चेक करें
Biharऑनलाइन चेक करें
Chandigarhऑनलाइन चेक करें
Chhattisgarhऑनलाइन चेक करें
Dadra – Nagar Haveliऑनलाइन चेक करें
Daman – Diuऑनलाइन चेक करें
Delhiऑनलाइन चेक करें
Goaऑनलाइन चेक करें
Gujaratऑनलाइन चेक करें
Haryanaऑनलाइन चेक करें
Himachal Pradeshऑनलाइन चेक करें
Jammu & Kashmirऑनलाइन चेक करें
Jharkhandऑनलाइन चेक करें
Karnatakaऑनलाइन चेक करें
Keralaऑनलाइन चेक करें
Madhya Pradeshऑनलाइन चेक करें
Maharashtraऑनलाइन चेक करें
Manipurऑनलाइन चेक करें
Meghalayaऑनलाइन चेक करें
Mizoramऑनलाइन चेक करें
Nagalandऑनलाइन चेक करें
Orissaऑनलाइन चेक करें
Pondicherryऑनलाइन चेक करें
Punjabऑनलाइन चेक करें
Rajasthanऑनलाइन चेक करें
Sikkimऑनलाइन चेक करें
Tamilnaduऑनलाइन चेक करें
Telanganaऑनलाइन चेक करें
Tripuraऑनलाइन चेक करें
Uttaranchalऑनलाइन चेक करें
Uttar Pradeshऑनलाइन चेक करें
West Bengalऑनलाइन चेक करें

समस्या का समाधान होने पर क्या करे?

यदि योजना के अंतर्गत आपकी किसी समस्या का समाधान नहीं मिल प् रहह है तो आप इनके हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके सहायता ले सकते है।

  • पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर: 155261
  • पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266
  • पीएम किसान लैंडलाइन नंबर: 011-23381092, 23382401
  • पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन है: 0120-6025109

Contact Us

अगर सभी प्रकार के उपाए करने के बाद भी आपके बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर नहीं होते तब आप अकाउंटेंट या जिला कृषि कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। इसके साथ ही सीधे कृषि विभाग में भी समपर्क करके उच्च अधिकारियो को समस्या से अवगत करा सकते हैं। आप केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ईमेल आईडी (pmkisan-ict@gov.in) पर मेल भी कर सकते हैं।

किसान सम्मान निधि योजना हेल्पलाइन नम्बर

हमारी वेबसाइट माध्यम से आपको किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि इसके बाद भी आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी सभी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। आप निम्न हेल्पलाइन नंबर तथा ई मेल आईडी के माध्यम से सहायता प्राप्त कर सकते हैं-

  • PM-KISAN Help Desk Phone: 011-23381092, 155261 / 1800115526 (Toll Free)
  • Phone: 91-11-23382401
  • Email: pmkisan-ict@gov.in

यह भी पढ़े – कोरोना संक्रमण में केंद्र की पहल: – 80 करोड़ राशन कार्ड धारकों के लिए 3 महीने राशन की व्यवस्था

हम उम्मीद करते हैं की आपको किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

32 thoughts on “किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2021: pmkisan.gov.in New List, पीएम किसान किस्त”

  1. Mere father ke naam se paisa AATA hai par dusre ke account me ja Raha hai.
    Account number galat hai jila kirsi karyalay Gaya par account number Nahi Sahi karte. Jo toll free number hai wo Kabhi nhi lagta.mai kya Karu
    Name.sukai adhar no.306743448593
    Account.no.90110100048479 sarva up gramin bank branch tulsipur balrampur u.p.

    Reply
  2. Me ek kesan hu mene pm kisan ap par mera form bhara tha jesako rejecat kar diya gaya he esliye me es young season wancheet hu mera mrgdrshan kare

    Reply
  3. I am living in Delhi.my aadhar card and Bank account are in Delhi.there is some agriculture land area 0.8550 mts in district Aligarh, Uater Pradesh, in joint ac of me and my brother.sevrel times apply on village label patwari etc and on line apply but no registered. My brother is registered, and getting RS 2000.pl help me.

    Reply
  4. Sir Mera status bta rha hai pmfs rejected by bank account is closed contact by csc and sbi office kya karna hoga sir please help me

    Reply
  5. सर हमें किसान सम्मान निधि का लाभ नही मिल रहा है हमारी आधार संख्या से किसी अन्य व्यक्ति का खाता संख्या जोड दिया गया है इस कारण से हमारा किसान सम्मान निधि का पैसा उस व्यक्ति के खाते में जा रहा है। हमारी शिकायतों पर अधिकारी कोई ध्यान नही देते हैं ।मेरी आधार संख्या २२९१२४३९७७१३ है। व खाता संख्या ०३३८२०१००३८६१० है।

    Reply
  6. सर, जैसे की हमने अपना आवेदन csc से किया था ०१/११/२०१९ को, लेकिन पैसा आया नही, जब हमने अपना स्टेट्स चेक किया तो उसमे दिखा रहा था की state/district level not approval. तो इसमे हम क्या करे

    Reply
  7. सर, जैसे की हमने अपना आवेदन csc से किया था 25/01/2020 को, लेकिन पैसा आया नही, जब हमने अपना स्टेट्स चेक किया तो उसमे दिखा रहा था की state/district level not approval. तो इसमे हम क्या करे

    Reply
  8. Sir khud se dekh liya jata th a aap ka pmkisan samman nidhi yojna wo link band kar diya gaya ha sir pls on kar dijiye sir

    Reply
  9. Darbar Anand ben jaysinh adarcard 89 4097348199 palej navu ragitration vadva 187 khta number hapto aviyo nathi

    Reply
  10. Sir my father account number is wrong father name is shanti miyan his actual account number is 489510110002277 but wrong account number entried is 489510110002227 so please please submit actual account number

    Reply
  11. महोदय मेरे पिता जी का अकाउंट नंबर गलत जो गया है। श्याम नारायण पांडेय ग्रामसभा केहरपुरा ब्लॉक बैरिया जिला बलिया
    गलत अकाउंट नबर 309324930094
    सही अकाउंट नंबर 30932493094
    मेरी आप से निवेदन है कि इसको सासोधन करवा दे। मैं दो बार स्टेटस विकाश भवन में जमा किया लेकिन कोई प्रतिउत्तर नहीं मिला । और कर नहीं रहे हैं। मुझे आप से पूर्ण आश है ।

    Reply
    • अदिति बहन
      आप इस सम्बन्ध में अधिकारिक वेबसाइट में दिए गए हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से मदद प्राप्त कर सकते हैं।

      Reply
  12. Sir,
    Meri ek bhi installment nhi aayi hai aapse request hai ki meri help kre aur installment mere account m daal de.
    Account number:————
    Adhaar no. 725635438334
    District : Aligarh
    Tehsil: Iglas
    Mobile no. 9917635297

    Reply
  13. Sir my father a/c number is wrong Bob
    But Sahi a/c number
    Ifsc code BARB0MAJHIL
    Village Chamrua post Bharri Basant Pur Block Nigohi
    District Shahjahanpur
    Utter pradesh

    Reply
  14. सर जी मेरी पाचवी किसत नही आई है क्या करे

    Reply
  15. महाशय से आंतरिक अनुरोध है कि मुझे पांचवीं किस्त भेजने की कृपा करें। इसके लिए मैं आपका आभारी हूं। मन्टु कुमार मंडल, दुमका। झारखंड।

    Reply

Leave a Comment