इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना: Indira Gandhi Matritva Poshan, ऑनलाइन आवेदन

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Registration, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना फेस 1 एप्लीकेशन, Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2020, राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता मानदंड और अन्य जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। राजस्थान की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार ने दूसरे बच्चे को जन्म देने जा रही माताओ को लाभ पहुंचाने के लिए इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की शुरुआत की है।

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

इस योजना के तहत दूसरी संतान को जन्म देने वाली महिलाओ को लाभ पहुंचाने का कार्य किया जायेगा। वह सभी महिलाये जो दूसरी संतान को जन्म देने जा रही हैं उन्हें इस योजना के तहत  6000 रूपये की धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी। महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के अनुसार राज्य सरकार द्वारा Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के तहत आने वाले 5 वर्षों में 225 करोड़ रूपये की राशि खर्च की जायेगी। इस समय यह योजना राज्य के चार जिलों उदयपुर, डूंगरपुर, बंसवारा, प्रतापगढ़ में चलायी जा रही है।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अश्लोक गहलोत के द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की 103 वी जयंती के अवसर पर गभ्वती महिलाओ को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2020 को आरम्भ किया गया है। इस योजना के तहत राजस्थान सरकार ने गर्भवती महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म की स्थिति में ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान करने का लक्ष्य रखा है। राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना को अपने प्रारंभिक चरण में प्रदेश के आदिवासी जिलों उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा व प्रतापगढ़ में लागु किया जा रहा है।

इस योजना के तहत लगभग 3 .75 लाख महिलाओ को दूसरी संतान के जन्म पर लाभान्वित किये जाने की बात कही गयी है। इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना के तहत महिला को कुछ पात्रता मानदंडों को पूरा करने की स्थिति में लाभार्थी के रूप में चुना जायेगा। प्रत्येक लाभार्थी महिला को सहायता राशि का वितरण सीधे बैंक खाते के माध्यम से किया जायेगा, इसलिए आवेदिका का अपना बैंक अकाउंट होना जिसका आधार से लिंक होना आवश्यक है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा शुरू की गयी राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना 2020 के तहत आवेदन की प्रकिया, पात्रता मानदंड तथा आवश्यक दस्तावेजों के बारे में विस्तार से जानकारी साझा करेंगे।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता

क़िस्तआर्थिक सहायताकिस समय प्रदान की जाएगी सहायता?
पहली क़िस्त₹1000गर्भावस्था जाच और पंजीकरण होने पर
दूसरी क़िस्त₹1000दो प्रसव पूर्व जांच होने पर
तीसरी क़िस्त₹1000संस्थागत प्रसव होने पर
चौथी क़िस्त₹2000बच्चे की जन्म से 105 दिन तक सभी नियमित टीके लगने तथा बच्चे के जन्म का पंजीकरण होने की स्थिति में
पांचवी क़िस्त₹1000बच्चे के जन्म के 3 माह के भीतर परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का फेस 1

बताते चले की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2020 को अभी केवल राजस्थान के 4 जिलों में ही पायलट प्रोजेक्ट के रूप में आरम्भ किया गया है। इन जिलों से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर इस योजना को आगे बढ़ाया जायेगा।

  • उदयपुर
  • डूंगरपुर
  • बंसवारा
  • प्रतापगढ़

Highlights of Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

योजना का नामइंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना
आरम्भ की गईमहिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश द्वारा
लाभार्थीदूसरे बच्चे को जन्म देने वाली महिलाए
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यमहिलाओं के स्वास्थ्य देखभाल के लिए आर्थिक सहायता देना
लाभ6,000 रुपये सहायता राशि
श्रेणीराजस्थान सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा गरीबी के चलते दूसरी संतान के पैदा होने पर महिलाओं के भरण पोषण की उचित व्यवस्था न होने की समस्या के समाधान के लिए इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार राज्य में किसी भी महिला के दसरी संतान के जन्म देने पर 6000  रूपये की सहायता राशि प्रदान करेगी।

इस योजना के सफल कार्यान्वयन के द्वारा मां के बेहतर स्वास्थ्य और दूसरी संतान के रखरखाव में सहायता प्रदान की जाएगी।यह योजना मुख्य रूप से महिलाओं के स्वास्थ्य को केंद्र में रखते हुए तैयार की गयी है।  इस योजना के द्वारा महिला को शिशु को स्तन पान कराये जाने की स्थिती में उचित पोषण मिल सकेगा, जिससे उसके स्वास्थ्य पर किसी भी प्रकार का प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा।

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना (IGMPY) के लाभ

  • राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी की 103 वी जयंती के अवसर पर Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2020 का आरंभ
  • वह महिलाएं जो राजस्थान की स्थायी निवासी हैं तथा दूसरी संतान को जन्म देने जा रही हैं, वह इस योजना का लाभ ले सकेंगी।
  • इस योजना को अभी राजस्थान में प्रारंभिक चरण में उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा तथा प्रतापगढ़ में ही शुरू किया गया है।
  • इंदिरा गाँधी मृत पोषण योजना के तहत दूसरी बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • वह प्रत्येक महिला को दूसरे बच्चे को जन्म देने जा रही है वह इस योजना के माध्यम से 6000 रूपये की धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्राप्त कर सकती है।
  • IGMPY 2020 के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी महिलाओ के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी |
  • महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के अनुसार सरकार की इस योजना के तहत आने वाले 5 वर्षों में 225 करोड़ रूपये की राशि खर्च की जायेगी |
  • ममता भूपेश ने बताया की इस योजना की शुरुआत राज्य में महिलाओं एवं बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य उपलब्ध के उद्देश्य से की गयी है।
  • इस योजना के तहत दी जाने वाली सहयता राशि से महिला एवं शिशु के स्वास्थ्य की देखभाल की जा सकेगी।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2020 पात्रता मानदंड

वह सभी महिलाएं जो इस Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के तहत आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें दिए गए पात्रता मानदंडो को अनिवार्य रूप से पूरा करना होगा।

  • केवल राजस्थान की स्थायी निवासी महिलाएं ही राजस्थान सरकार की इस योजना का लाभ ले सकती हैं।
  • वह महिलाएं जो दूसरी बार संतान को जन्म देने जा रही है केवल वही महिलाएं ही इस योजना का लाभ ले सकती हैं।
  • इसके साथ ही आवेदिका का बैंक अकाउंट होना चाहिए और बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए |

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

वह सभी इच्छुक महिलाएं जो इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहती हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। इस समय इस योजना के आवेदन के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की जानकारी प्रदान नहीं की गयी है। इस समय यह योजना पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर राजस्थान के चार जिलों में लागु की गयी है। Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के आवेदन के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की जानकारी के जारी किये जाने पर हम उसे अपनी वेबसाइट में अपडेट कर देंगे। इस योजना के जुड़े अपडेट के लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रहे।

यह भी पढ़े – राजस्थान अनुग्रह भुगतान योजना लिस्ट: COVID 19 अनुग्रह राशि भुगतान किस्त देखे

हम उम्मीद करते हैं की आपको इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment