मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana: उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन, मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना सहायता राशि, यूपी कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में शामिल दुर्घटनाएं पात्रता मानदंड एवं आवेदन की प्रक्रिया का विवरण इस लेख में दिया जायेगा। मुख्यमंत्री योगी असदित्यनाथ के द्वारा मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना की शुरुआत की गयी है।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा घोषणा की गयी है कि यदि राज्य के किसी किसान के साथ दुर्घटना हुई हो उन्हें राज्य सरकार द्वारा सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जाएगी। इस योजना के अनुसार यदि राज्य के किसी किसान की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उसके परिवार को 5 लाख रूपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान  जाएगी और 60 प्रतिशत दिवांग्यता पर अधिकतम 2 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान किये जाने का दावा किया है।

यूपी मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना 2020

उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानो को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए मंगलवार 21 जनवरी 2020 लखनऊ में हुई कैबिनेट की बैठक में Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana को मंजूरी दे दी गयी थी। ये बताया गया है कि इस योजना का संचालन जिलाधिकारियों के माध्यम से किया जायेगा। किसानो के लिए इस योजना की घोषणा बहुत महत्वपूर्ण साबित हुई है।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के अनुसार राज्य सरकार ने बताया है कि जिन किसानों की दुर्घटना 14  सितम्बर 2019 के बाद हुई है, उन्हें इस योजना के अनुसार आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। राज्य सरकार द्वारा इस योजना का लाभ उत्तेर प्रदेश के 2 करोड़ किसानों को प्रदान किया जायेगा। जिससे कि किसानों के परिवार को आर्थिक परेशानी सामना नहीं करना पड़ेगा।

Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana Highlights

योजना का नाममुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान भाई
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
उद्देश्यराज्य के किसानों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना
लाभकिसी दुर्घटना की स्थिति में वित्तीय सहायता
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही

उत्तर प्रदेश कृषक दुर्घटना कल्याण स्कीम आवेदन प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश के खातेदार और सह खातेदार किसान जिनकी मृत्यु किसी दुर्घटना में हो जाती है तो उन किसानों के परिवार इस योजना के योग्य माने जायेंगे। उत्तर प्रेदेश राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो वे इच्छुक लाभार्थी Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana  के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना कार्यन्वयन ऑनलाइन तरीके के माध्यम से किया जायेगा, जिससे कि  योजना के आवेदन प्रक्रिया में पूरी तरह स्पष्टता आ जाएगी। इस योजना के अनुसार ऑफलाइन आवेदन भी स्वीकार किये जायेंगे। इस योजना में किसान भी शामिल होंगे जो अन्य व्यक्तियों के खेतो में काम करते हैं और फसल काटने के बाद उसका बंटवारा करते हैं।

यूपी कृषक दुर्घटना कल्याण योजना का उद्देश्य

हम जानते हैं कि किसानों का जीवन जीने के लिए सिर्फ कृषि ही उनका साधन है। यदि किसी किसान की मृत्यु दुर्घटना में हो जाती है या किसानों को दुर्घटना में कोई हानि हो जाती है तो उनके परिवार को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या का समाधान करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के अनुसार यदि किसी किसान की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो उनके परिवार को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 5 लाख रूपये तक की राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यदि कोई किसान दुर्घटना में दिव्यांग हो जाता है तो उसे सरकार 2 रूपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में शामिल दुर्घटनाएं

  • समुद्र, नदी, झील, तालाब, पोखर व कुएं में डूबने से
  • आंधी-तूफान, वृक्ष से गिरने, दबने व मकान गिरने
  • आग लगने, बाढ़, बिजली गिरने, करंट लगने
  • सर्पदंश , जीव-जंतु व जानवर के काटने, मारने व आक्रमण से
  • सीवर चैंबर में गिरना
  • रेल ,सड़क और हवाई यात्रा के दौरान होने  वाली दुर्घटना
  • हत्या ,आतंकवादी हमला ,लूट , डकैती , मारपीट में हुई  वाली दुर्घटना
  • आकाश से बिजली गिरने , आग लगने , बाढ़ आदि में होने वाली दुर्घटना

Krishak Durghatna Kalyan Yojana कृषक सहायता राशि

  • दोनों हाथ अथवा दोनों पैर अथवा दोनों आंख की क्षति होने पर 100 प्रतिशत आर्थिक सहातया की जाएगी।
  • एक हाथ तथा पैर की क्षति होने पर भी 100 प्रतिशत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • एक आंख ,एक पैर अथवा एक पैर की क्षति होने पर किसानों को 50 प्रतिशत की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • दुर्घटना में मृत्यु होने पर अथवा पूर्ण शारीरिक अक्षमता होने पर 100 प्रतिशत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • स्थायी दिव्यांगता 50 प्रतिशत से अधिक लेकिन 100 प्रतिशत से कम होने पर  50 प्रतिशत की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • ऐसी स्थायी विकलांगता जो 25 % से अधिक है लेकिन 50 % से कम होने पर 25 प्रतिशत की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

पात्रता मानदंड

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • यदि किसान इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो उनकी 18 वर्ष से 70 वर्ष के बीच होना आवशयक है।
  • उत्तर प्रदेश की खतौनी में दर्ज खातेदार या सह खातेदार जो दुर्घटना में मृत्यु अथवा विकलांगता के शिकार हो जाते है तो उनके माता पिता ,पति पत्नी ,पुत्र पुत्री , पुत्र वधु , पौत्र पोत्री, जिनकी आजीविका का प्रमुख साधन खातेदार /सह खातेदार की दर्ज कृषि भूमि से चलती है वह इस योजना के  योग्य होंगे।
  • ऐसे किसान जिनके पास खुद की जमीन नहीं है और वे बताई पर खेती करते हैं तो ऐसे किसानो को भी इस योजना के पात्र होंगे।

कृषक दुर्घटना कल्याण आवेदन की शर्तें

  • यदि किसी किसान की दुर्घटना हुई है तो उसे या उसके परिवार को 45 दोनों के अंदर आवेदन कराना  अनिवार्य है।
  • यदि आवेदक 45 दिनों के अंदर आवेदन नहीं कर पाता है तो इसकी समय अवधि केवल जिलाधिकारी ही समय सीमा को सिर्फ 30 दिनों तक बढ़ा सकते हैं।
  • यदि किसान या उसके परिवार द्वारा दुर्घटना के 75 दिनों बाद पंजीकरण कराते हैं तो यह पंजीकरण मान्य नहीं होगा।
  • अगर किसान किसी  सरकारी बीमा योजना के भीतर आवेदन कर चुका है और वंहा से उसे 3 लाख रूपए मिले हैं तो यूपी सरकार द्वारा उसे या उसके परिवार को केवल 2 लाख रूपए की ही आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में आवेदन कैसे करे?

उत्तर प्रदेश राज्य के इच्छुक किसान जो मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए तो अभी इसके इंतज़ार करना होगा। क्योंकि अभी इस योजना की शुरुआत सार्वजानिक रूप से नहींकी गयी  है। जब इस योजना की शुरुआत की जाएगी तो इसके ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया हमारी वेबसाइट द्वारा विस्तार रूप से बता दी जाएगी।

यह भी पढ़े – उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment