(पंजीकरण) ई-श्रम पोर्टल 2021: e-SHRAM Card Registration, eshram.gov.in login

E-Shram Card Registration | ई-श्रम पोर्टल पंजीकरण | E-Shram CSC Login | ई-श्रम पोर्टल ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म | e-SHRAM Card Apply Online

देश के संगठित एवं असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए विभिन प्रकार योजनाओ को शुरु किया जाता है। लेकिन इसके बावजूद भी बहुत से ऐसे श्रमिक देखने को मिलते है जिन्हे जानकारी ना मिलने के कारण इन सभी योजनाओ का लाभ नहीं मिल पाता है। भारत के केंद्र सरकार ने ऐसे सभी श्रमिकों के लिए E Shram Portal लॉन्च किया है। ई-श्रम पोर्टल एक ऐसा पोर्टल है जिस पर सभी श्रमिक अपना पंजीकरण कराकर सरकार द्वारा उपलब्ध विभिन्न सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे। आज हम यहां आपको अपने इस लेख में ई-श्रम पोर्टल से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। तो यदि आप भी केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए गए E-Shram Portal के बारे में विस्तृत जानकारी देखना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Table of Contents

श्रम पोर्टल

ई-श्रम पोर्टल को केंद्रीय रोजगार मंत्री श्री भूपेंद्र यादव जी के द्वारा लांच किया गया है। इस पोर्टल को शुरू करने के पीछे केंद्र सरकार का लक्ष्य लगभग 38 करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का नेशनल डेटाबेस तैयार करना है जिसे जिससे कि आधार सीडिंग की जाएगी। आम तौर पर E Shram Portal मजदूरों, रेहड़ी पटरी वालों एवं घरेलू काम करो को एक साथ जोड़ेगा। सभी पंजीकृत श्रमिक ई-श्रम पोर्टल  पर अपना नाम, पता, शैक्षणिक योग्यता, कौशल का प्रकार, परिवार से संबंधित जानकारी दर्ज करेंगे। इसके बाद यह पोर्टल श्रमिकों द्वारा दर्ज जानकारी के आधार पर उन्हें कई प्रकार की सुविधाएं प्रदान करेगा। E-Shram Portal पर श्रमिकों का डेटाबेस एकत्रित करने के पीछे केंद्र सरकार का उद्देश्य उनके लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं लांच करके उन योजनाओं का बेहतर संचालन करना है। लेबर एंड एंप्लॉयमेंट मिनिस्ट्री को ई-श्रम पोर्टल के संचालन की जिम्मेदारी दी गई है।

E Sharam Portal के तहत 27 लाख से अधिक श्रमिकों ने कराया  पंजीकरण

ई श्रम पोर्टल को केंद्र सरकार द्वारा 26 अगस्त गुरुवार को लांच किया गया है। श्रम मंत्री द्वारा इस बात की पुष्टि की गई है। कि अब तक 27 लाख से अधिक असंगठित श्रमिक  अपना पंजीकरण करा चुके हैं। असंगठित श्रमिकों के पंजीकरण के लिए विभिन्न शिविरों का आयोजन  किया जा रहा है। नई दिल्ली के श्रम शक्ति भवन में इसी प्रकार के एक शिविर का उद्घाटन श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री एवं पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री रामेश्वरतेली के द्वारा किया गया है। जिसका उद्देश्य विभिन्न मंत्रालयों में कार्यरत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीकरण करना था।

  • इस शिविरर के द्वारा 80 से अधिक श्रमिक पंजीकृत किए जा चुके हैं।
  • रामेश्वर तेली ने कहा है की रजिस्ट्रेशन  २ लाख का दुर्घटना बीमा कवर भी देता है।
  • E sharm portal पर रजिस्ट्रेशन के लिए  हेल्पलाइन नंबर 14434 भी लॉन्च किया गया है।

Highlights of E Shram Portal

नामई-श्रम पोर्टल
आरम्भ की गईभारत सरकार
वर्ष2021
लाभार्थीदेश के श्रमिक
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यसभी श्रमिकों का डाटा एकत्रित करना
लाभश्रमिकों के लिए बनाई गयी सरकारी सुविधाओं का लाभ एक प्लेटफार्म पर
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://eshram.gov.in/

E Shram Card

जो भी श्रमिक E Shram Portal पर अपना पंजीकरण कराएंगे उन्हें एक 12 अंकों का श्रम कार्ड भी प्रदान किया जाएगा। यही कार्ड देशभर में मान्य होगा। श्रमिक कार्ड के माध्यम से विभिन्न प्रकार की योजनाओं का लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे। यह श्रमिक कार्ड श्रमिकों को उनके काम के आधार पर बांटे जाते हैं ताकि उन्हें रोजगार प्राप्त करने में सहायता की जा सके।

श्रम पोर्टल स्टेक होल्डर

  • मिनिस्ट्री ऑफ लेबर एंड एंप्लॉयमेंट
  • मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी
  • नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर
  • स्टेट/यूटी गवर्नमेंट
  • लाइन मिनिस्ट्रीज/डिपार्टमेंट ऑफ सेंट्रल गवर्नमेंट
  • वर्कर्स फैसिलिटेशन सेंटर एंड फील्ड ऑपरेटर
  • अनोर्गनाइज्ड वर्कर्स एंड देयर फैमिली
  • यूआईडीएआई
  • एनपीसीआई
  • ईएसआईसी
  • ईपीएफओ
  • सीएससी – एसपीवी
  • डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट थ्रू पोस्ट ऑफिस
  • प्राइवेट सेक्टर पार्टनर

E Shram Portal का उद्देश्य

निर्माण श्रमिक प्रवासी श्रमिक एवं प्लेटफार्म श्रमिक स्ट्रीट वेंडर घरेलू श्रमिक कृषि श्रमिक आदि सभी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का केंद्रीकृत डेटाबेस तैयार करने के उद्देश्य के साथ E Shram Portal लॉन्च किया गया है। ई-श्रम पोर्टल को शुरू करने के पीछे सरकार का मुख्य उद्देश्य सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के कार्यान्वयन में सुधार करना है। यह पोर्टल सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण करने का कार्य भी करेगा। इस पोर्टल के माध्यम से श्रमिक अपने कौशल के अनुसार रोजगार के अवसर प्राप्त करेंगे। इसके साथ ही भविष्य में कोविड-19 जैसे किसी भी राष्ट्रीय संकट से निपटने के लिए भी इस पर व्यापक डेटाबेस उपलब्ध होगा।

पीएम मोदी योजना 2021 

E-Shram Portal के लाभ

  • ई-श्रम पोर्टल के तहत सरकार का लक्ष्य 38 करोड़ से अधिक श्रमिकों को पंजीकृत करना है।
  • प्राकृतिक आपदाओं, महामारी के मामले में पात्र UWs को आश्रय / सहायक प्रदान करने के लिए कार्ड राज्य और केंद्र सरकार के लिए सहायक होगा।
  • यह कार्ड पूरे भारत में स्वीकार्य होगा।
  • देश के असंगठित श्रमिक जो ई-श्रम पोर्टल के तहत पंजीकरण करेंगे, उन्हें एक वर्ष के लिए प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई) के माध्यम से दुर्घटना बीमा मिलेगा।
  • इस योजना के तहत रजिस्टर उम्मीदवारों को आकस्मिक मृत्यु और स्थायी विकलांगता के लिए 2 लाख रुपये या आंशिक विकलांगता के लिए 1 लाख रुपये की सहायता प्रदान की जाएगी।

ई-श्रम पोर्टल विशेषताएं

  • ई-श्रम पोर्टल केंद्रीय रोजगार मंत्री श्री भूपेंद्र यादव जी के द्वारा लांच किया गया है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से 28 करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का नेशनल डेटाबेस तैयार किया जाएगा जो कि आधार से सीट किया जाएगा।
  • मजदूर रेहड़ी पटरी वाले एवं घरेलू कामगार E Shram Portal के माध्यम से एक साथ जोड़े जाएंगे।
  • इस पोर्टल पर श्रमिक से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध होगी जैसे उसका नाम पता शैक्षिक योग्यता कौशल का प्रकार एवं परिवार से संबंधित जानकारी आदि।
  • सभी श्रमिक E Shram Portal के माध्यम से बहुत सी सुविधाएं प्राप्त कर सकेंगे।
  • इसके साथ ही पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों को एक 12 अंकों का कार्ड भी प्रदान किया जाएगा। यह कार्ड पूरे देश भर में मान्य होगा।
  • ई-श्रम पोर्टल पर उपलब्ध ई कार्ड के माध्यम से नागरिकों को बहुत सी सरकारी योजनाओं का लाभ भी दिया जाएगा।
  • सभी श्रमिकों को उनके काम के आधार पर ई कार्ड प्रदान किया जाएगा। इस कार्ड के माध्यम से श्रमिकों को रोजगार प्रदान करने में भी आसानी हो।
  • इस पोर्टल पर सभी श्रमिकों का डेटाबेस एकत्रित होने के कारण सरकार को इस डेटाबेस के आधार पर श्रमिकों के लिए योजनाएं बनाने में आसानी होगी।
  • लेबर एवं एंप्लॉयमेंट मिनिस्ट्री को इस पोर्टल के संचालन की जिम्मेदारी दी गई है।

श्रम पोर्टल के तहत विभिन्न योजनाएं

सामाजिक सुरक्षा कल्याण योजना

  • अटल पेंशन योजना: इस योजना के तहत लाभार्थी को ₹1000 से ₹5000 तक की पेंशन दी जाती है। इस योजना के तहत लाभार्थी की मृत्यु के बाद लाभार्थी के पति या पत्नी को एकमुश्त पेंशन भी प्रदान की जाती है।
  • आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना: इस योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी परिवार को बिना कोई प्रीमियम दिए 5 लाख रूपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जायेगा।
  • नेशनल पेंशन स्कीम फॉर शॉपकीपर, ट्रेडर्स एंड सेल्फ एंप्लॉयड पर्सन: इस योजना के तहत लाभार्थी को 60 वर्ष की आयु के बाद न्यूनतम 3 हज़ार रूपए की पेंशन प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को 55 रूपए  से 200 रूपए तक का प्रीमियम देना होता है। आधी प्रीमियम की राशि लाभार्थी द्वारा जमा की जाएगी और बाकि आधी राशि केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी।
  • पीडीएस: PDS योजना के माध्यम से लाभार्थी को प्रति माह 35 किलो चावल या गेहूं प्रदान किया जाता है। इसके साथ ही गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करने वाले परिवार को 15 किलो खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जाती है।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण: इस योजना के माध्यम से घर निर्माण के लिए, मैदानी क्षेत्र में 1.2 लाख रुपये और पहाड़ी क्षेत्र में 1.3 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना : वित्तीय सेवा विभाग द्वारा कार्यान्वित, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ बैंक द्वारा प्रदान किया जाता है। किसी भी कारण से लाभार्थी की मृत्यु होने पर इस योजना के तहत लाभार्थी के नामांकित व्यक्ति को 2 लाख रूपए प्रदान किए जायेंगे।
  • प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना: इस योजना के तहत लाभार्थी को 60 वर्ष की आयु के बाद न्यूनतम 3 हज़ार रूपए की पेंशन राशि प्रदान की जाती है। इसके साथ ही लाभार्थी की मृत्यु होने की स्थिति में पेंशन के हिस्से का 50% लाभार्थी के जीवनसाथी को प्रदान किये जाते है। इस योजना का लाभ लेने  के लिए लाभार्थी को 55 रूपए  से 200 रूपए के बीच की प्रीमियम राशि का भुगतान करना होगा। लाभार्थी प्रीमियम राशि का 50% जमा करवाएगा और 50% केंद्र सरकार जमा कराएगी।
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना : प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत लाभार्थी की दुर्घटना में मृत्यु होने पर या लाभार्थी के पूर्ण रूप से विकलांग होने पर सरकार द्वारा 2 लाख रूपए की राशि प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही यदि लाभार्थी पूर्ण रूप से विकलांग नहीं होता है तो भी उसे एक लाख रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • बुनकरों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना : इस योजना के तहत बुनकरों को स्वास्थ्य बीमा का लाभ प्रदान किया जाता है।
  • राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम : राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम योजना के माध्यम से सफाई कर्मचारियों को वित्तीय सहायता दी जाएगी।
  • राष्ट्रीय सामाजिक सहायक कार्यक्रम: राष्ट्रीय सामाजिक सहायक कार्यक्रम भी एक प्रकार की पेंशन योजना है। इस योजना के तहत लाभार्थी को हर महीने 300 रूपए से 500 रूपए तक का प्रीमियम देना होगा। इसके बाद लाभार्थी को ₹1000 से ₹3000 तक की पेंशन प्रदान की जाएगी।
  • सेल्फ एंप्लॉयमेंट स्कीम फॉर रिहैबिलिटेशन आफ मैन्युअल स्कैवेंजर्स: इस योजना के माध्यम से हाथ से मैला उठाने वालों और उनके आश्रितों को नि:शुल्क कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा सरकार की ओर से ₹3000 का वजीफा भी दिया जाएगा।

एंप्लॉयमेंट स्कीम

  • MGNREGA : इस योजना के तहत श्रमिकों को 100 दिन का गारंटीशुदा रोजगार प्रदान किया जायेगा।
  • दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना: दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना के माध्यम से देश के गरीब मजदूरों को कौशल प्रशिक्षण और व्यवसाय शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना: इस योजना को ग्रामीण युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य के साथ विकसित किया गया है। इस योजना के माध्यम से युवाओं को कौशल प्रशिक्षण के बाद रोजगार भी प्रदान किया जाता है।
  • पीएम स्वानिधि: इस योजना के द्वारा देश के रेहड़ी-पटरी वालों को ऋण के रूप में 10 हज़ार रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना: प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के माध्यम से देश के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करके रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जाते है।
  • प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम: इस योजना के माध्यम से नए उद्यम स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

उपलब्ध योजनाओं के लिए पात्रता मानदंड

योजना का प्रकारयोजना का नामपात्रता
सोशल सिक्योरिटी वेलफेयर स्कीमप्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक असंगठित क्षेत्र से होना चाहिए। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आवेदक की मासिक आय ₹15000 है आवेदक ईपीएफओ, ईएसआईसी, एनपीएस का सदस्य नहीं होना चाहिए।
 नेशनल पेंशन स्कीम फॉर शॉपकीपर, ट्रेडर एंड सेल्फ एंप्लॉयड पर्सनआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक की उम्र 18 से 40 साल के बीच होनी चाहिए। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक का वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ से अधिक नहीं होना चाहिए जो लोग EPFO, ESIC, PMSYM के अंतर्गत नहीं आते हैं वे इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं। जिनके पास छोटी दुकानें, रेस्टोरेंट, होटल आदि हैं, उन्हें भी इस योजना का लाभ मिलता है। क्या कर सकते हैं।
 प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक की आयु 18 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक के पास जन धन या बचत बैंक खाता होना अनिवार्य है।
 प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक की आयु 18 से 70 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक के पास जन धन या बचत बैंक खाता होना अनिवार्य है।
 अटल पेंशन योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
 PDSआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक को गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करना चाहिए। वह परिवार इस योजना का लाभ पाने के लिए पात्र है जिसमें किसी भी सदस्य की आयु 15 से 59 वर्ष के बीच न हो। जिस परिवार में कोई भी विकलांग व्यक्ति भी इस योजना का लाभ पाने का पात्र है। जिस नागरिक के पास कोई स्थायी नौकरी नहीं है उसे भी इस योजना का लाभ मिल सकता है।
 प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीणआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। वह नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकता है जिसके पास कोई स्थायी नौकरी नहीं है। उस परिवार को इस योजना का लाभ मिल सकता है जिसमें एक विकलांग नागरिक है। वह परिवार भी इस योजना का लाभ उठा सकता है। जिस परिवार में 15 से 59 वर्ष के बीच कोई सदस्य नहीं है, उस परिवार में योजना का लाभ पाने के पात्र।
 नेशनल सोशल एसिस्टेंस प्रोग्रामआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ वह व्यक्ति प्राप्त कर सकता है जिसके पास आय का बहुत कम या कोई साधन नहीं है।
 आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजनाजो परिवार कच्चे घर में रह रहे हैं उन्हें इस योजना का लाभ मिल सकता है। यदि परिवार में 16 से 59 वर्ष के बीच कोई सदस्य नहीं है तो उस परिवार को इस योजना का लाभ मिल सकता है। अगर परिवार में कोई भी व्यक्ति स्वस्थ नहीं है और एक व्यक्ति विकलांग है तो उस परिवार को भी इस योजना का लाभ मिल सकता है। मैनुअल स्कैवेंजर्स परिवार। जिन परिवारों के पास कोई जमीन नहीं है और परिवार की आय का मुख्य स्रोत शारीरिक श्रम है। वे परिवार इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं, जिनमें कोई भी आय अर्जित करने वाला नागरिक जिसकी आयु 16 से 59 वर्ष के बीच है, उपस्थित नहीं है।
 हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम फॉर वीवर्सआवेदक को भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। बुनकर की आय का कम से कम 50% हथकरघा बुनाई से प्राप्त होना चाहिए।
 नेशनल सफाई करमचारी फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशनआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक एक सफाई कर्मचारी या एक हाथ से मैला ढोने वाला होना चाहिए।
 सेल्फ एंप्लॉयमेंट स्कीम फॉर रिहैबिलिटेशन आफ मैन्युअल स्कैवेंजर्सआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक को मेहतर के रूप में पहचाना जाना चाहिए। इस योजना का लाभ पाने के लिए परिवार का एक ही सदस्य आवेदन कर सकता है।
एंप्लॉयमेंट स्कीममनरेगाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए और वह ग्रामीण क्षेत्र का निवासी होना चाहिए।
 दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक की आयु 15 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। महिलाओं और कमजोर वर्ग के लिए अधिकतम आयु 45 वर्ष निर्धारित की गई है।
 दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजनाइस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।
 पीएम स्वनीधिआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। आवेदक को सर्वेक्षण की पहचान की जानी चाहिए। आवेदक के पास शहरी स्थानीय निकाय द्वारा जारी प्रमाण पत्र या पहचान पत्र होना चाहिए।
 प्रधानमंत्री कौशल विकास योजनाआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ पाने के लिए उसे दसवीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए। आवेदक की आयु 18 से 45 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
 प्रधानमंत्री एंप्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्रामआवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। आवेदक को कम से कम आठवीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।

[जिलेवार सूची] पीएम किसान योजना लिस्ट 2021

आवश्यक दस्तावेज

  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आधार नंबर
  • आधार नंबर से लिंक मोबाइल नंबर
  • सेविंग बैंक अकाउंट नंबर
  • आईएफएससी कोड

ई श्रम पोर्टल पर पंजीकरण कैसे करे?

जो भी आवेदक E Shram Portal पर अपना पंजीकरण कराना चाहते हैं उन्हें नीचे दी गई चरण दर चरण प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
ई-श्रम पोर्टल
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको रजिस्टर ऑन ई श्रम के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
ई-श्रम पोर्टल
  • इस पेज पर आपको एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा। यहां आपको अपना आधार लिंक मोबाइल नंबर कैप्चा कोड ईपीएफओ एवं ईएसआईसी मेंबर्स स्टेटस दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सेंड ओटीपी का बटन दबाना होगा। अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से एक ओटीपी आएगा।
  • इस ओटीपी को दिए गए OTP box में भरे और रजिस्टर का बटन दबाएं। इस प्रकार आपके श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपको ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
शिकायत दर्ज
  • अब आपके सामने ग्रीवेंस फॉर्म खुल कर आ जाएगा, इसके बाद आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज कर देनी है।
  • इसके बाद आपको लॉज ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक कर देना है, और आपकी शिकायत दर्ज हो जाएगी।

शिकायत स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपको ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको व्यू थे स्टेटस आफ योर ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक कर देना है।  अब आपको रेफरेंस नंबर दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको व्यू स्टेटस के विकल्प पर क्लिक कर देना है, और ग्रीवेंस स्टेटस आपके सामने खुल कर आ जाएगा।

स्कीम से संबंधित जानकारी चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको स्कीम्स के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने निम्नलिखित ऑप्शन खुल कर आएंगे।
  • अब आपको अपनी आवश्यकता के अनुसार विकल्प पर क्लिक कर देना है, और संबंधित जानकारी आपके सामने खुल जाएगी।

सीएससी लोकेट कैसे करे

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको सीएससी लोकेटर के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
सीएससी लोकेट
  • अब आपको इस पेज पर अपने राज्य एवं जिले का चयन कर देना है, और सीएससी से संबंधित जानकारी आपके सामने खुलकर आ जाएगी।

एडमिन लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको एडमिन लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
एडमिन लॉगइन
  • अब इस पेज पर आपको अपनी ईमेल आईडी, पासवर्ड तथा क्या कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको साइन इन के विकल्प पर क्लिक कर देना है, और आप एडमिन लॉगइन हो जाएगे।

यूजर गाइड डाउनलोड कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको सर्विसेस के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको यूजर गाइड के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा, इसके बाद आपको इस पेज पर डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आपके द्वारा क्लिक करने के बाद यूजर गाइड आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

कांटेक्ट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई श्रम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको दोबारा कॉन्टैक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
कांटेक्ट
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा और आप कांटेक्ट डिटेल देख सकते हैं।

Contact US

इस लेख के द्वारा आज हमने आपको ई श्रम पोर्टल से संबंधित सभी जानकारी दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल लिखकर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

  • Helpline Number- 14434
    • Email Id- eshram-care@gov.in

यह भी पढ़े – नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021: MGNREGA कार्ड राज्यवार सूची, डाउनलोड जॉब कार्ड (nrega.nic.in)

हम उम्मीद करते हैं की आपको ई-श्रम पोर्टल से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment